BIHARBreaking NewsSTATE

दर्दनाक ; मां को बचाने के लिए अस्पताल में बेटियों ने मुंह से ऑक्सीजन दी, लेकिन फिर भी बचा नहीं सकीं

उत्तर प्रदेश के बहराइच जिले का एक वीडियो यहां सरकारी दावाों की कलई खोलने के लिए काफी है। बहराइच के जिला अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में भर्ती एक महिला सांस भी नहीं ले पा रही थी। अस्पताल प्रशासन ऑक्सीजन उपलब्ध कराने के मामले में लाचार था। बुुजुर्ग मां को तड़पते देख दो बेटियों अपने मुंह से मां को ऑक्सीजन देने की कोशिश की, लेकिन उनकी जान नहीं बची।

Sponsored

हैरान करने वाली बात यह है कि अस्पताल प्रशासन को इस मरीज का नाम तक मालूम था।

Sponsored


Muzaffarpur Wow Ads Insert Website

Sponsored

महिला का घुट रहा था दम
सरकार और स्वास्थ्य महकमे की फाइलों में ऑक्सीजन की कमी नहीं है, लेकिन जमीनी हकीकत कुछ और है। ऑक्सीजन के अभाव में मरीज दम तोड़ रहे हैं। जिला अस्पताल बहराइच का यह मामला सरकार के तमाम दावों की कलई खोल रहा है। शनिवार को यहां एक महिला की हालत बिगड़ने पर उसे लाया गया था। उसका दम घुट रहा था। महिला की दो बेटियों ने ऑक्सीजन सिलेंडर के लिए स्टॉफ की मिन्नतें कीं, लेकिन अस्पताल प्रशासन ने कह दिया कि ऑक्सीजन नहीं है।

Sponsored


Sponsored

यह देख महिला के साथ आईं उसकी दो बेटियां जान बचाने के लिए मुंह से ऑक्सीजन देने लगीं, लेकिन कुछ देर बाद महिला की सांसें थम गईं। मामले का वीडियो भी सामने आया है। आरोप है कि इस मामले को छिपाने के लिए अस्पताल प्रशासन ने तत्काल महिला के शव को वहां से हटवा दिया।

Sponsored


Sponsored

लाते ही मौत हुई थी, ऑक्सीजन की कमी नहीं
अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ. डीके सिंह ने कहा- महिला जब अस्पताल आई थी तो तत्काल उसकी मौत हो गई थी। ऑक्सीजन की व्यवस्था थी। बच्चियों को लगा कि वह अपने मुंह से हवा देकर कुछ कर सकती हैं। इसलिए ऐसा कर रही थीं। बच्चियां भावनाओं में थीं। परिजन महिला को तुरंत लेकर चले गए थे। इसलिए उनका नाम और पता कुछ नहीं नोट किया जा सका।

Sponsored

Ads

Sponsored

Ads

Sponsored

Sponsored

Input: Bhaskar

Sponsored
Sponsored
Share this Article !

Comment here