BIHARBreaking NewsSTATE

बड़ी खबर; ऑक्‍सीजन की कमी होगी दूर, PM केयर्स फंड से देशभर के 551 जिला अस्पतालों में लगाए जाएंगे ऑक्‍सीजन प्‍लांट

नई दिल्‍ली. देश में तेजी से बढ़ते कोरोना संक्रमण के बीच ऑक्‍सीजन को लेकर हाहाकार मचा हुआ है. देश की मौजूदा स्थिति को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पीएम केयर फंड से देश भर में 551 प्रेशर स्विंग अब्सॉर्प्शन (पीएसए) ऑक्सीजन संयंत्र लगाने का फैसला किया है.

Sponsored

प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) के मुताबिक, पीएम मोदी ने निर्देश दिया है कि इन ऑक्सीजन प्लांट को जल्द से जल्द चालू जाना चाहिए. ये प्लांट जिला स्तर पर ऑक्सीजन की उपलब्धता को प्रमुख बढ़ावा देंगे. PMO के मुताबिक, 551 ऑक्सीजन प्लांट के लिए फंड पीएम केयर (PM-CARES) से दिया जाएगा.

Sponsored


Muzaffarpur Wow Ads Insert Website

Sponsored

PMO ने एक बयान में बताया कि अस्पतालों में ऑक्सीजन की उपलब्धता को बढ़ाने की दिशा में पीएम मोदी के दिशा निर्देश के अनुरूप, PM-CARES फंड से सार्वजनिक स्वास्थ्य सुविधाओं के अंदर 551 समर्पित मेडिकल ऑक्सीजन जनरेशन प्लांटों की स्थापना के लिए धन के आवंटन के लिए सैद्धांतिक मंजूरी दी है. बता दें कि कोरोना संकट के बीच ऑक्सीजन की किल्लत से देश जूझ रहा है.
पीएमओ की ओर से जानकारी दी गई है कि पीएम मोदी ने देश में पीएम केयर्स फंड से 551 मेडिकल ऑक्सीजन बनाने वाले प्लांट को रविवार को मंजूरी दे दी. ये ऑक्सीजन प्लांट विभिन्न राज्यों/केंद्रशासित प्रदेशों में जिला मुख्यालय में चिह्नित सरकारी अस्पतालों में स्थापित किए जाएंगे.

Sponsored


Sponsored

PMO ने बताया कि ये खरीद स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के माध्यम से की जाएगी. जिला मुख्यालय के सरकारी अस्पतालों में ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट स्थापित करने के पीछे मूल उद्देश्य सार्वजनिक स्वास्थ्य प्रणाली को और मजबूत करना है.

Sponsored

PMO के बयान के अनुसार, इन-हाउस कैप्टिव ऑक्सीजन जेनरेशन सुविधा इन अस्पतालों और जिले की दिन-प्रतिदिन की मेडिकल ऑक्सीजन जरूरतों को पूरा करेगी. इसके अलावा, तरल चिकित्सा ऑक्सीजन (LMO) कैप्टिव ऑक्सीजन जनरेशन के लिए टॉप अप के रूप में काम करेगा.

Sponsored


Sponsored

प्रधानमंत्री कार्यालय ने बताया कि इस तरह की प्रणाली लंबे समय तक यह सुनिश्चित करेगी कि जिलों के सरकारी अस्पतालों को ऑक्सीजन की आपूर्ति में अचानक व्यवधान का सामना न करना पड़े और COVID-19 या अन्य मरीजों के लिए पर्याप्त ऑक्सीजन की आपूर्ति का उपयोग हो.

Sponsored

इससे पहले केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने गांधीनगर संसदीय क्षेत्र के तहत आने वाले कोलावड़ा के एक आयुर्वेदिक अस्पताल में 280 लीटर प्रति मिनट की क्षमता वाले प्रेशर स्विंग अब्सॉर्प्शन (पीएसए) ऑक्सीजन संयंत्र का उद्घाटन किया. अस्पताल में कोविड-19 केंद्र बनाया गया है. गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी और उप मुख्यमंत्री नितिन पटेल भी इस मौके पर उपस्थित थे.

Sponsored


Sponsored

शाह ने कहा कि पीएम केयर कोष से ऑक्सीजन उपलब्ध कराने की योजना के तहत केंद्र सरकार ने गुजरात में 11 नए पीएसए ऑक्सीजन संयंत्र लगाने की स्वीकृति दी है. उन्होंने कहा कि इस कोष के जरिये देश भर में ऐसे सैकड़ों संयंत्र स्थापित किये जाएंगे.

Sponsored

Ads

Sponsored

Ads

Sponsored

Sponsored

Sponsored

Sponsored

Input: News18

Sponsored
Sponsored
Share this Article !

Comment here