ADMINISTRATIONBIHARBreaking NewsMUZAFFARPURNationalPoliticsSTATE

BPSC में इंजीनियर्स का जलवा, Top 10 में 5 IITian, किसी ने IAF छोड़ा तो किसी ने 40 लाख का पैकेज

BPSC 66वीं परीक्षा में 1st रैंक हासिल करने वाले वैशाली के सुधीर कुमार का सिलेक्शन स्टेट टैक्स असिस्टेंट कमिश्नर के पद पर पर हुआ है.

बिहार में बीपीएससी 66वीं भर्ती के फाइनल परीक्षा का रिजल्ट जारी हो गया है। इस परीक्षा में वैशाली के सुधीर कुमार ने टॉप किया है। इस बार BPSC Toppers की चर्चा हर तरफ हो रही है।

Sponsored

आपको बता दें कि, इस साल टॉप 10 की लिस्ट में 7 टॉपर इंजीनियरिंग के छात्र रह चुके हैं। इस परीक्षा के इंटरव्यू के लिए 1838 उम्मीदवारों को बुलाया गया था, इनमें कुल 685 उम्मीदवारों का सिलेक्शन हुआ है।

Sponsored

उम्मीदवारों को उनके रैंक के अनुसार ऑफिसर की पोस्ट मिली है। इसमें 1st रैंक हासिल करने वाले सुधीर कुमार को स्टेट टैक्स असिस्टेंट कमिश्नर के पद पर चुना गया है। आइए टॉपर्स की लिस्ट पर नजर डालते हैं।

Sponsored
7 toppers engineering students in top 10 list in final result of BPSC 66th recruitment
बीपीएससी 66वीं भर्ती के फाइनल रिजल्ट में टॉप 10 की लिस्ट में 7 टॉपर इंजीनियरिंग के छात्र

रैंक 1- सुधीर कुमार, वैशाली

बीपीएससी 66वीं परीक्षा में वैशाली के महुआ के रहने वाले सुधीर कुमार को पहला स्थान प्राप्त हुआ है। सुधीर IIT कानपुर से सिविल इंजीनियरिंग के छात्र रह चुके हैं।

Sponsored

सुधिर को स्टेट टैक्स असिस्टेंट कमिश्नर के पद पर चुना गया है। सुधीर के पिता पोस्ट ऑफिस में काम करते हैं और उनकी माता राजापाकड़ में ANM हैं।  BPSC की तैयारी को लेकर सुधीर कहते हैं कि कोई भी परीक्षा क्रैक करने के लिए शॉर्टकट काम नहीं आता है।

Sponsored

रैंक 2- अंकित कुमार, नालंदा

BPSC में दूसरी रैंक हासिल करने वाले उम्मीदवार का नाम अंकित कुमार है। अंकित अस्थावां प्रखंड के अकबरपुर गांव के रहने वाले हैं। उनके पिता एक किसान हैं।

Sponsored

अंकित ने 10वीं की परीक्षा मिलिट्री स्कूल बेंगलुरु से पास की है। इसके बाद IIT गुवाहाटी से ग्रेजुएशन किया है। ग्रेजुएशन के बाद सिविल सेवा की तैयारी के लिए दिल्ली चले गए।

Sponsored

रैंक 3- ब्रजेश कुमार, अररिया

बिहार के अररिया के रहने वाले Brajesh Kumar को बीपीएससी परीक्षा में तीसरा स्थान प्राप्त हुआ है। ब्रजेश को स्टेट टैक्स असिस्टेंट कमिश्नर के पद पर नौकरी करने का मौका मिलेगा। मीडिया से बात करते हुए ब्रजेश ने कहा कि, UPSC हो या BPSC तैयारी बराबर रखनी चाहिए।

Sponsored

रैंक 4- अंकित सिन्हा, औरंगाबाद

BPSC टॉपर्स की लिस्ट में चौथे स्थान पर अंकित सिन्हा का नाम है। अंकित को भी स्टेट टैक्स असिस्टेंट कमिश्नर के पद पर चुना गया है. उनकी मां एक आंगनबाड़ी सेविका हैं। अंकित बताते हैं कि उन्होंने इस परीक्षा की तैयारी के लिए सोशल मीडिया से दूरी बना ली थी।

Sponsored

रैंक 5- सिद्धांत कुमार, पटना

पटना के रहने वाले सिद्धांत कुमार को BPSC Toppers की लिस्ट में 5वां स्थान प्राप्त हुआ है। सिद्धांत ने साल 2017 में केरल के कोचीन यूनिवर्सिटी साइंस टेक्नोलॉजी से बीटेक किया है। इनके पिता का हार्डवेयर की दुकान है।

Sponsored

आपको बता दें कि, Ankit Kumar BPSC की परीक्षा में पहली बार शामिल हुए और उन्हें सफलता हासिल हो गई.

Sponsored

रैंक 6- मोनिका श्रीवास्तव, औरंगाबाद

बीपीएससी 66वीं भर्ती के फाइनल परीक्षा में औरंगाबाद की Monika Srivasta को छठा रैंक हासिल हुआ है। मोनिका IIT गुवाहाटी से सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग करने के बाद चेन्नई में जॉब कर रही थी। लॉकडाउन में लौटी मोनिका ने BPSC की तैयारी की और सफलता हासिल की।

Sponsored

रैंक 7- विनय कुमार ​​​​​, जमालपुर

जमालपुर के रहने वाले Vinay Kumar को BPSC 66th Exam में सातवीं रैक मिली है. विनय IIT दिल्ली से सॉफ्टवेयर इंजीनियर​​​​​​​ रह चुके हैं।

Sponsored

इंजीनियरिंग के बाद उन्होंने पटना और गोरखपुर में कोचिंग खोल दिया। वो टारगेट 20-20 नाम से कोचिंग भी चलाते हैं।

Sponsored

रैंक 8- सदानंद कुमार, पूर्वी चंपारण

बीपीएससी में 8वीं रैंक हासिल करने वाले सदानंद कुमार पूर्वी चंपारण के रहने वाले हैं। उनके पिता एक किसान हैं। सदानंद ने IIT गुवाहाटी से सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग की पढ़ाई की है। वो बताते हैं कि, उन्होंने खुद 6 से 8 घंटे पढ़ाई की है।

Sponsored

रैंक 9- आयुष कृष्णा, मुजफ्फरपुर

टॉपर्स की लिस्ट में 9वें नंबर पर नाम मुजफ्फरपुर के रहने वाले आयुष कृष्णा का है। उन्होंने इस परीक्षा की तैयारी के लिए कापी मेहनत की है।

Sponsored

आयुष कृष्णा इंजीनियरिंग कर चुके हैं और बेंगलुरु में बतौर सॉफ्टवेयर इंजीनियर नौकरी कर रहे थे। साल 2018 से वो BPSC की तैयारी कर रहे हैं।

Sponsored

रैंक 10- अमर्त्य आदर्श

अरवल जिले के साधारण से परिवार में जन्मे अमर्त्य आदर्श को BPSC 66वीं परीक्षा में 10वीं रैंक मिली है। वो नालंदा ओपन यूनिवर्सिटी से इतिहास से ग्रेजुएट रह चुके हैं।

Sponsored

इसके बाद उनका चयन वायुसेना में हो गया। 9 साल से ज्यादा वायुसेना में काम करने के बाद सिविल सेवा की तैयारी में लग गए। उन्होंने सेल्फ स्टडी से इस परीक्षा में सफलता हासिल की है।

Sponsored
Sponsored
Share this Article !

Comment here