BIHARBreaking NewsMUZAFFARPURSTATE

मुखिया समेत सभी पदधारकों को 31 मार्च तक सार्वजनिक करना होगा संपत्ति का ब्योरा, इस दिन हो सकता है चुनाव की तारीखों का ऐलान

Bihar Panchayat Election: बिहार पंचायत चुनाव (Bihar Panchayat chunav) कराने की सभी तैयारियां अंतिम चरण में हैं. अप्रैल -मई में होने वाले त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव (Panchayat Chunav 2021) के लिए किसी भी दिन तारीखों का ऐलान हो सकता है. मगर, उससे पहले पंचायती राज विभाग ने सभी जिलों को एक रिमाइंडर भेजा है.

Sponsored

इसके मुताबिक, पंचायत चुनाव के सभी पदधारकों 31 मार्च तक संपत्ति (चल-अचल) का ब्यौरा सार्वजनिक (Property Details) करना होगा.

Sponsored

इस संबंध में जरूरी कार्रवाई करने का निर्देश सभी जिलों के पंचायती राज पदाधिकारियों को भी दिया गया है. बता दें कि इससे पहले भी विभाग ने ये आदेश सभी जिलों के डीएम को भेजे थे. इसमें पंचायत के पद धारकों से संपत्ति का ब्यौरा लेकर जिलों के वेबसाइट पर अपलोड करना था. अब पंचायत चुनाव से ठीक पहले पंचायती राज विभाग के रिमांइडर को महत्वपूर्ण माना जा रहा है.

Sponsored

Muzaffarpur Wow Ads Insert Website

Sponsored

बिहार में करीब ढाई लाख त्रिस्तरीय पंचायत के पदों पर मतदान की प्रक्रिया अप्रैल -मई में करायी जानी है. अभी तक आयोग द्वारा सभी स्तर पर तैयारियां पूरी की जा चुकी हैं . पंचायत चुनाव को लेकर मतदाता सूची की अंतिम सूची के प्रकाशन के बाद नये नामों को शामिल करने का निर्देश जिलों का जारी किया जा चुका है.

Sponsored

इसके अलावा राज्य निर्वाचन आयोग ने जिलों से 10 चरणों में ईवीएम के मूवमेंट को लेकर भी सुझाव मांगा है. आयोग ने अभी तक बूथों का भौतिक सत्यापन और तर्कसंगत काम पूरा कर लिया है. बिहार में पहली बार ईवीएम के माध्यम से पंचायत चुनाव कराया जा रहा है.

Sponsored

Panchayat Chunav 2021: इस दिन हो सकता है तारीखों का ऐलान

Sponsored

पंचायत चुनाव की तारीखों का इंतजार लंबे वक्त से किया जा रहा है. अब पता चला है कि पटना हाईकोर्ट में मामला होने के कारण तारीखें घोषित नहीं हो रहीं. पंचायत चुनाव को लेकर पटना हाइकोर्ट का फैसला 10 मार्च को आने की संभावना है. मल्टी पोस्ट ईवीएम मॉडल- तीन की आपूर्ति को लेकर राज्य निर्वाचन आयोग ने पटना हाइकोर्ट में रिट याचिका दायर की है.

Sponsored

इसमें भारत निर्वाचन आयोग से एनओसी दिलाने का अनुरोध किया गया है. हाइकोर्ट से जैसे ही इवीएम खरीद को लेकर भारत निर्वाचन आयोग को एनओसी देने की हरी झंडी मिलेगी और इधर राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा चरणवार मतदान की अधिसूचना जारी कर दी जायेगी.

Sponsored

Sponsored

Sponsored

Input: Prabhat Khabar

Sponsored
Sponsored
Share this Article !

Comment here