Sponsored
Breaking News

मुजफ्फरपुर DM ने सदर अस्पताल का किया औचक निरीक्षण, गायब मिले 10 चिकित्सक व 7 पारा मेडिकल स्टाफ, हो गई कार्यवाई

Sponsored

मुजफ्फरपुर: जिलाधिकारी द्वारा सुबह 9:15 में सदर अस्पताल मुजफ्फरपुर का औचक निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के क्रम में 10 चिकित्सक और 7 पारा मेडिकल स्टाफ रोस्टर के हिसाब से अनुपस्थित पाए गए।

Sponsored

Sponsored

सभी अनुपस्थित चिकित्सकों का एक दिन का वेतन स्थगित रखते हुए उनसे स्पष्टीकरण पूछने का निर्देश दिया गया है। साथ ही भविष्य में इसकी पुनरावृत्ति ना हो इस आशय की उन्हें चेतावनी भी दी गई है। अनुपस्थित चिकित्सक एवं कर्मी कुछ देर के बाद पहुंच गए।उन्होंने कहा कि पहले मरीजो का कोरोना जांच हेतु एंटीजन टेस्ट किया जाता है। ऐसे में ओपीडी में विलंब हो जाता है।परंतु उनके इस तर्क को स्वीकार नहीं करते हुए उपरोक्त कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया।

Sponsored

Sponsored

निरीक्षण के क्रम में मरीजों से बात करने के बाद पता चला कि मरीजों को भोजन नहीं दिया जा रहा है ।इसका कारण पूछने पर बताया गया कि कोरोना काल के कारण मरीजों की संख्या कम होने से संबंधित भोजन उपलब्ध कराने वाली एजेंसी द्वारा असमर्थता व्यक्त की गई है। हालांकि उक्त अवधि में कोई भुगतान नहीं किया गया है। जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि दो दिन के अंदर भोजन की सुविधा बहाल करना सुनिश्चित किया जाए।

Sponsored

सिटी स्कैन तैयार हालात में था परंतु अभी चालू नहीं किया गया था। जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि 16 दिसंबर 2020 तक हर हाल में सीटी स्कैन की सुविधा बहाल करना सुनिश्चित किया जाए।

Sponsored

निरीक्षण के क्रम में डिजिटल एक्सरे और पैथोलॉजिकल का कार्य एवं एंटीजन टेस्टिंग का कार्य किया जा रहा था।

Sponsored

निरीक्षण के वक्त निबंधन काउंटर खुला हुआ था। उस समय तक 81 मरीजों का निबंधन हो चुका था। इमरजेंसी वार्ड, महिला वार्ड ,बच्चों का वार्ड में व्यवस्था संतोषजनक पाई गई। साफ सफाई एवं देखभाल की व्यवस्था के बारे में पूछने पर मरीजों ने इसे संतोषजनक बताया। उप विकास आयुक्त ने सकरा पीएचसी ,अपर समाहर्ता राजेश कुमार ने मड़वन पीएचसी और एसडीओ पश्चिमी द्वारा काटी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का निरीक्षण किया गया। निरीक्षण प्रतिवेदन उनके द्वारा जिलाधिकारी के समक्ष उपस्थापित किया जाएगा।

Sponsored

जिलाधिकारी ने कहा कि इस प्रकार का औचक निरीक्षण लगातार किए जाएंगे। उन्होंने जिले के सभी विभागों एवं संबंधित अधिकारियों को स्पष्ट रूप से कहां है कि आम आवाम से जुड़ी योजनाओं के क्रियान्वयन के प्रति अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन गंभीरतापूर्वक किया जाए।

Sponsored
Sponsored
Sponsored
Editor

Leave a Comment
Sponsored
  • Recent Posts

    Sponsored