ADMINISTRATIONBIHARBreaking NewsPolice

बिहार में शादी का जोड़ा पहन बारात का इंतजार करती रही दुल्हन, फोन पर एक कमी बता तोड़ दिए अरमान

संवाद सूत्र, मशरक (सारण): बिहार के छपरा जिले में लड़की पक्ष द्वारा दहेज की मांग नहीं पूरा करने पर लड़के वालों ने बारात लाने से इनकार कर दिया। दहेज लोभी किस हद तक गुजर सकते हैं इसका उदाहरण जिले के मशरक थाना क्षेत्र के हरपुरजान गांव में दिखा। सात फेरे लेते बाप का बेटी को देखने का अरमान आंसुओं में बह गया। लड़की के होने वाले पति के पिता ने बारात लाने से मना कर दिया और इसके पीछे वजह थी समाज का नासूर दहेज। रविवार को आने वाली बारात को दहेज में बाइक नहीं मिलने पर रोक लगा दी गई है। बता दें कि मामला मशरक थाना क्षेत्र के हरपुरजान गांव का है।

Loading...
Sponsored

Loading...
Sponsored

पिता बृजेश राम व माता चन्द्रावती देवी की पुत्री गुड़िया कुमारी की शादी मशरक थाना क्षेत्र के ही लखनपुर गांव के जगलाल राम के पुत्र धर्मेंद्र राम से तय हुई थी। रविवार 21 नवंबर की रात गुड़िया के दरवाजे बारात आनी थी। उसके स्वागत के लिए पूरी तैयारी चल रही थी। गुड़िया को सजाया जा रहा था।

Loading...
Sponsored

 

दुल्हन को सजाने के बीच उसके पिता के मोबाइल पर लड़के के बाप ने फोन किया। दूसरी तरफ से बाइक नहीं मिलने पर शादी कैंसिल करने की बात बताई गई। लड़के के बाप से लड़की के पिता से कहा कि आपने बाइक में दहेज में नहीं दिया है। इसलिए बारात लेकर नहीं आएंगे। इस पर शादी के लिए तैयार बैठी दुल्हन गुड़िया की मां चन्द्रावती देवी ने लड़के वालों को डेढ़ लाख रुपये दहेज में देने की बात बताई। इसके बावजूद बारात के दिन सुबह ही बाइक की मांग कर बारात लाने से इनकार कर दिया। मामले में थाने की पुलिस को लड़की वालों ने आवेदन देकर लड़के वालों पर उचित कार्रवाई करने की मांग की है।

Loading...
Sponsored

 

Loading...
Sponsored
Share this Article !

Comment here