Breaking NewsCricketNationalSPORTSSTATE

भारत ने तोड़ा गाबा का ‘घमंड’, ऑस्ट्रेलिया में 328 रन का सबसे बड़ा टारगेट चेज किया, सीरीज 2-1 से जीती

टीम इंडिया ने ब्रिस्बेन टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया को 3 विकेट से हराकर इतिहास रच दिया। भारत ने ऑस्ट्रेलिया में अपना सबसे बड़ा 328 रन का टारगेट चेज किया और चौथा टेस्ट जीतकर 2-1 से सीरीज अपने नाम कर ली। इससे पहले भारत ने 2003 के एडिलेड टेस्ट में 233 रन का सबसे बड़ा टारगेट चेज किया था।

Sponsored

 

ब्रिस्बेन में तीन दशक बाद हारी ऑस्ट्रेलिया

Sponsored

मेजबान ऑस्ट्रेलिया 32 साल बाद ब्रिस्बेन में पहली बार टेस्ट हारी है। पिछली बार ब्रिस्बेन में नवंबर 1988 में वेस्टइंडीज ने उसे 9 विकेट से हराया था। 1988 के बाद ऑस्ट्रेलिया ने ब्रिस्बेन में 31 टेस्ट खेले थे, जिसमें से 24 जीते और 7 ड्रॉ रहे।

Sponsored

Sponsored

 

गाबा में पहली बार 300+ रन का टारगेट चेज हुआ

Sponsored

गाबा में पहली बार किसी टीम ने 300+ रन का टारगेट चेज किया है। इससे पहले यहां ऑस्ट्रेलिया ने नवंबर 1951 में वेस्टइंडीज के खिलाफ सबसे बड़ा 236 रन का टारगेट चेज किया था।

Sponsored

 

भारत की गाबा में पहली जीत

Sponsored

टीम इंडिया ने ब्रिस्बेन के गाबा मैदान पर पहला टेस्ट जीता है। इस टेस्ट से पहले टीम इंडिया ने यहां 6 टेस्ट खेले थे, जिसमें से 5 हारे और एक ड्रॉ हुआ।

Sponsored

Sponsored

 

 

ऑस्ट्रेलिया को लगातार तीसरी टेस्ट सीरीज में शिकस्त दी

Sponsored

भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया को लगातार तीसरी बॉर्डर-गावस्कर सीरीज में शिकस्त दी है। इससे पहले भारत ने फरवरी 2017 और दिसंबर 2018 में खेली गई बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी में शिकस्त दी थी।

Sponsored

 

टीम इंडिया ने पिछली बार 2018 में ऑस्ट्रेलिया को उसी के घर में 3-1 से शिकस्त दी थी। टीम की ऑस्ट्रेलिया में यह पहली टेस्ट सीरीज जीत थी। अब यह भारत की ऑस्ट्रेलिया में दूसरी टेस्ट सीरीज में जीत है। भारत ने ऑस्ट्रेलिया में अब तक 13 में से 8 सीरीज हारीं, 2 जीती और 3 ड्रॉ खेली हैं।

Sponsored

 

Sponsored

 

भारत ने 16 में से 10 बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी जीतीं या रिटेन कीं

Sponsored

1996 से भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच बॉर्डर-गावस्कर सीरीज खेली जा रही है। अब तक भारत ने 16 में से 10 ट्रॉफी जीतीं या रिटेन की हैं। ऑस्ट्रेलिया ने 5 ही सीरीज पर कब्जा जमाया है।

Sponsored

 

ऑस्ट्रेलिया ने दूसरी पारी में 294 रन बनाए

Sponsored

मैच में ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले बैटिंग करते हुए 369 रन बनाए थे। जवाब में टीम इंडिया सिर्फ 336 रन ही बना सकी। इसके बाद ऑस्ट्रेलिया ने दूसरी पारी में 294 रन बनाए। पहली पारी में ऑस्ट्रेलिया को 33 रन की बढ़त मिली थी। इस आधार पर 328 रन का टारगेट दिया था। इसके जवाब में टीम इंडिया ने 7 विकेट गंवाकर 329 रन बनाते हुए मैच जीत लिया।

Sponsored

Sponsored

 

टीम इंडिया ने 18 रन पर पहला विकेट गंवाया

Sponsored

टीम इंडिया ने 5वें दिन बिना विकेट के 4 रन से आगे खेलना शुरू किया था। ओपनर रोहित शर्मा और शुभमन गिल संभलकर खेल रहे थे। इस बीच पारी के 9वें ओवर में पैट कमिंस ने भारत को 18 रन पर पहला झटका दिया। रोहित शर्मा 7 रन बनाकर विकेटकीपर टिम पेन के हाथों कैच आउट हुए।

Sponsored

 

इसके बाद शुभमन गिल और चेतेश्वर पुजारा ने दूसरे विकेट के लिए 114 रन की पार्टनरशिप कर पारी को संभाला। शुभमन 146 बॉल पर 91 रन की पारी खेलकर आउट हुए। टेस्ट करियर में यह उनकी दूसरी फिफ्टी और बेस्ट स्कोर भी है।

Sponsored

Sponsored

पंत ने नाबाद रहते मैच जिताया

Sponsored

ऋषभ पंत 89 रन की नाबाद पारी खेलकर टीम को मैच जिताया। साथ ही वे सबसे कम टेस्ट पारियों में एक हजार रन बनाने वाले पहले भारतीय विकेटकीपर बन गए हैं। इस मामले में उन्होंने पूर्व विकेटकीपर महेंद्र सिंह धोनी को पीछे छोड़ दिया। पंत ने 27 पारियों में यह उपलब्धि हासिल की, जबकि धोनी ने 32 पारी खेली थीं।

Sponsored

Sponsored

शुभमन ने तोड़ा गावस्कर का रिकॉर्ड

Sponsored

 

शुभमन चौथी पारी में फिफ्टी लगाने वाले सबसे युवा भारतीय ओपनर बन गए। उन्होंने पूर्व भारतीय ओपनर सुनील गावस्कर का 50 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ दिया। फिलहाल, शुभमन की उम्र 21 साल और 133 दिन है। वहीं, गावस्कर ने 21 साल और 243 दिन की उम्र में यह उपलब्धि हासिल की थी। पूर्व लेजेंड ने 1970 में वेस्टइंडीज के खिलाफ पोर्ट ऑफ स्पेन में खेले गए टेस्ट में फिफ्टी लगाई थी।

Sponsored

 

Sponsored
Share this Article !

Comment here