Sponsored
Breaking News

अब छोटे स्टेशनों और कम कमाई वाले स्टेशनों पर नहीं रूकेगी एक्सप्रेस ट्रेनें, रेलवे बोर्ड का फरमान।

Sponsored

रेलवे ने एक्सप्रेस ट्रेनों के ठहराव के संदर्भ में नई अधिसूचना जारी की है। वैसे छोटे स्टेशनों, जहां कम कमाई होती है वहां एक्सप्रेस ट्रेन का ठहराव नहीं होगा। इस बाबत रेलवे बोर्ड ने सभी जोनल कार्यालयों को गाइडलाइन जारी किया है। रेलवे के मुताबिक 15,000 रुपए या उससे ज्यादा कमाई वाले स्टेशनों पर ही एक्सप्रेस ट्रेनों का स्टॉपेज होगा। अब तक पांच हजार रुपए की आमदनी वाले स्टेशनों पर रेलगाड़ियों के स्टॉपेज की सुविधा यात्रियों को मिल रही है।

Sponsored

नए नियम के संदर्भ में रेलवे बोर्ड के डिप्टी डायरेक्टर कोचिंग विवेक कुमार सिन्हा ने सभी जोनल कार्यालयों को गाइडलाइन जारी किया है। 29 अगस्त को जारी लेटर के माध्यम से उन्होंने खर्चों में कटौती करने पर जोर दिया है। जानकारों के मुताबिक स्टेशनों पर ट्रेनों के रुक-रुक कर चलने से डीजल और बिजली की खपत बढ़ती है। ऊपर से ट्रेनों का टाइम भी दुरुस्त नहीं हो पाता। केवल छोटे स्टेशनों पर स्टॉपेज होने से रेलवे को 25 हजार एक्स्ट्रा खर्चा करना पड़ता है। जिन्हें स्टेशनों पर 20 से कम यात्री समान होते हैं, वहां स्टोपेज समाप्त करने की योजना बन रही है। पूर्वोत्तर रेलवे में तकरीबन दो दर्जन ऐसे स्टेशन हैं, जहां से आवाजाही करने वाले यात्रियों की संख्या नगण्य है।

Sponsored

आल इंडिया रेलवे मेंस फेडरेशन के महामंत्री शिव गोपाल मिश्र ने कहा कि अगर सरकार रेलवे को बेचती है तो बिना नोटिस ही चक्का जाम होगा। गवर्नमेंट बैकडोर की बजाय फ्रेटडोर से रेलवे को बेचने की तैयारी कर रही है। सरकार दादरी से मुंबई के बीच डेडिकेटेड फ्रेट कारिडोर को मित्र को देने की योजना बना रही है। जब हमारे हाथ से फ्रेट ही निकल जाएगा तो बचेगा क्या। उन्होंने कहा कि फेडरेशन रेलवे को बेचने नहीं देगा।

Sponsored

मीडिया से मुखातिब होते हुए महामंत्री शिव गोपाल मिश्र ने कहा कि प्राइवेटाइजेशन के लिए सरकार फिक्स्ड टर्म योजना चला रही है। वाणिज्य विभाग में लागू कर दी है। विद्युतीकरण में आउटसोर्सिंग बढ़ा रही है। स्टेशनों पर बढ़ रहे निजीकरण के प्रश्न पर उन्होंने कहा कि गवर्नमेंट स्टाफ कास्ट में कटौती कर पैसे बचा रही है। इसको लेकर रेलवे बोर्ड के चेयरमैन को लेटर लिखा है। उन्होंने वार्ता का भरोसा दिया है। शीघ्र ही इस मामले पर फैसला लिया जाएगा।

Sponsored
Sponsored
Sponsored
Abhishek Anand

Leave a Comment
Sponsored
  • Recent Posts

    Sponsored