Breaking NewsNationalSTATE

गर्व के क्षण! दुनिया के सबसे ऊंचे पुल का आर्च बनकर तैयार हुआ, एफिल टॉवर से भी ऊंचा है यह ब्रिज

जम्मू-कश्मीर में चिनाब नदी पर बन रहे दुनिया के सबसे ऊंचे पुल का आर्च बनकर तैयार हो चुका है. खास हैंगिंग आर्च के जरिए भारतीय इंजीनियरों ने आखिरकार इसके एक सिरे को दूसरे से जोड़ ही दिया. रेल मंत्री पियूष गोयल ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए आर्क के दोनों हिस्सों को जुड़ते हुए देखा. एफिल टॉवर से भी 35 मीटर ऊंचे इस रेलवे पुल की कुल ऊंचाई 467 मीटर है. अगले साल यह पुल उपयोग के लिए चालू किया जा सकता है.

Sponsored

PTIPTI

Sponsored

गौरतलब हो कि यह रेलवे ब्रिज इंद्रधनुष के आकार का है, जोकि कश्मीर को शेष भारत से जोड़ेगा. इसका काम नवंबर 2017 में शुरू हुआ था. इसे बनाने की लागत 1250 करोड़ रुपये की आई है. यह नदी के तल से 350 मीटर ऊपर है. खास बात यह कि यह रेलवे ब्रिज जिन खंभों पर टिका है, उसकी एक तरफ की ऊंचाई 131 मीटर है जो कि कुतुबमीनार से कहीं ज्यादा है.  दावा किया जा रहा है कि ये काफी मजबूत ब्रिज है.

Sponsored

PTIPTI

Sponsored

इस पर 8 तिव्रता के भूकंप का भी असर नहीं होगा. वहीं ये अति तीव्रता के विस्फोट का भी सामना कर लेगा. ब्रिज की लंबाई 1315 मीटर होगी. भारतीय रेलवे के इतिहास में इस पुल को मील का पत्थर बताया जा रहा है, जो विज्ञान और तकनीक का बेहतरीन नमूना है. आर्क के सिरे जुड़ने के बाद अब रेलवे ट्रैक बिछाने का काम शुरू किया जाएगा.

Sponsored
Sponsored
Share this Article !

Comment here