BIHARBreaking NewsSTATE

बिहार: कोरोनाकाल में प्राइवेट स्कूलों द्वारा ली गयी फीस होगी वापस? शिक्षा मंत्री ने कहा…..

बिहार में विधानसभा का सत्र चल रहा है. इस दौरान सदन में प्राइवेट स्कूलों द्वारा कोरोनाकाल के समय की फीस वसूली भी मुद्दा रहा. कोरोनाकाल के दौरान स्कूलों द्वारा ली गई फीस पर सदन में खूब चर्चा हुई. यह सवाल उठाया गया कि जब कोरोनाकाल के दौरान स्कूल में पढ़ाई ही नहीं हुई तो फिर बच्चों के अभिभावकों से फीस के नाम पर मोटी रकम क्यों वसूली जा रही है.

Sponsored

सदन में फीस को लेकर जब यह चर्चा शुरू हुई तो मामले में सूबे के शिक्षा मंत्री विजय चौधरी ने भी अपनी बात रखी. उन्होंने फीस के मामले पर बोलते हुए कहा कि सरकार भी सैद्धांतिक रूप से सहमत है कि अगर स्कूल में पढ़ाई नहीं हुई है तो फीस नहीं लगनी चाहिए. इसपर सदन में यह बात भी उठी कि जो फीस वसूली गयी है, सरकार इस राशि को वापस कराये.

Sponsored

Muzaffarpur Wow Ads Insert Website

Sponsored

शिक्षा मंत्री ने सदन में कहा कि सरकार देखेगी की इस मामले पर क्या किया जा सकता है.उन्होंने कहा कि निजी विद्यालयों का भी तर्क है कि कोरोना काल में ऑनलाइन पढ़ाई की व्यवस्था की गयी है. शिक्षा मंत्री मंगलवार को विधानसभा में मनेर के विधायक भाई वीरेंद्र के अल्प सूचित प्रश्न का जवाब दे रहे थे.

Sponsored

प्राइवेट स्कूलों के फीस वसूली मामले पर राजद के भाई वीरेंद्र ने प्रश्नकाल के दौरान सवाल उठाया. उन्होंने इसे गलत ठहराते हुए कहा कि जब कोरोनाकाल में स्कूल बंद था तो भी अभिभावकों से फीस वसूला गया. सरकार को इस मामले पर अपना फैसला लेना चाहिए. उन्होंने कहा कि स्कूल का संचालन एक-दो महीने से ही हो रहा है, लेकिन फीस पूरे साल का वसूला जा रहा है.

Sponsored

वहीं शिक्षा मंत्री ने कहा प्राइवेट स्कूलों में मनमाने तरीके से फीस नही वसूला जाये, इसे लेकर सरकार ने 2019 में कानून भी बनाया है.जिसके बाद मनामने ढ़ंग से फीस वसूली पर लगाम भी लगा है. लेकिन यह मामला कोरोनाकाल के विशेष दौर से जुड़ा है इसलिए सरकार इस मामले को देखेगी.

Sponsored

शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी ने बताया कि समग्र शिक्षा कार्यक्रम के तहत विद्यालयों को भेजी गयी कंपोजिट मद की राशि की जानकारी स्थानीय विधायकों को भी दी जायेगी. विद्यालय प्रबंध समिति और शिक्षा विभाग के पदाधिकारियों को निर्देश जारी किया जायेगा. शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी मंगलवार को विधानसभा में राजकुमार सिंह व अन्य सदस्यों के ध्यानाकर्षण सूचना का जवाब दे रहे थे.

Sponsored

Sponsored

Sponsored

input: PK

Sponsored
Sponsored
Share this Article !

Comment here