Sponsored
BIHAR

सारण के प्रभारी मंत्री Sumit कुमार सिंह ने अधिकारियों व जनप्रतिनिधियों के साथ की Virtual मीटिंग

Sponsored

सारण के प्रभारी मंत्री सह राज्य के विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री सुमित कुमार सिंह ने गुरुवार को वर्चुअल मीटिंग करके सारण जिले के वरीय अधिकारियों व जनप्रतिनिधियों से बातचीत की तथा कोरोना संकट में जिले का हालचाल जाना इस दौरान कई सारे मामले भी आए जिसका उन्होंने त्वरित निष्पादन करने का आश्वासन भी दिया।

Sponsored

 

प्रभारी मंत्री सुमित कुमार सिंह ने पत्रकारों को बताया कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व और आमजनों के सहयोग से बिहार आपदा से उत्पन्न स्थिति का डटकर मुकाबला कर रहा है। सरकार संसाधनों में किसी भी प्रकार की कमी नहीं होने देगी। कहीं कोई कमी या परेशानी न हो इसके लिए हमलोग लगातार समीक्षा बैठक कर रहे हैं।इसी क्रम में आज सारण जिला के प्रमुख जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों के साथ कोरोना रोकथाम के लिए वीडियों कांफ्रेंसिंग के माध्यम से समीक्षा बैठक की। जिला प्रशासन ने अब तक बहुत तत्परता से अपने दायित्व का निर्वहण किया है। मंत्री सुमित कुमार सिंह ने कहा कि मैंने उन्हें तमाम जनप्रतिनिधियों के साथ समन्वय स्थापित कर और बेहतर करने को प्रेरित किया। कोरोना से मृत लोगों के आश्रितों को तत्काल अनुग्रह राशि के तहत चार लाख दिया जाए। मेरी जानकारी में सारण जिला प्रशासन का इसमें बेहतर रिकॉर्ड है। उसे और तीव्र गति दें। प्रशासन के पास कोरोना से मृत लोगों की सूची हैं। प्रशासन अविलंब मृतक के निकटतम परिजन को सहायता राशि प्रदान करें।

Sponsored

 

प्रभारी मंत्री ने कहा कि सरकारी राशि पर पहला अधिकार पीड़ित जनता का हैं। मुख्यमंत्री का यही दर्शन रहा है। सरकार जनता की सेवक हैं। प्रशासन कोरोना पीड़ित परिवार को हरसंभव सुविधा मुहैया कराए। प्रशासन मास्क वितरण के कार्यों में तेजी लाए। गांव-गांव को सेनेटाइज किया जाए। सारण के जिलाधिकारी को जिले में दवा, बेड और ऑक्सीजन सहित तमाम आवश्यक वस्तुओं की उपलब्धता निरंतरता के साथ सुनिश्चित करने के लिए सघन निगरानी करने को कहा। जिले में टेस्टिंग और टीकाकरण की अच्छी गति है इस काम में और तेजी लाएं। गांव-गांव कैम्प लगाकर लोगों को कोरोना का टीका दिया जाए।

Sponsored

 

वहीं जनप्रतिनिधियों ने बाढ़ प्रभावित जिला होने के कारण सारण जिले में इस दिशा में तैयारी पर बल दिया। सुमित कुमार सिंह ने जिला प्रशासन को इस बारे में उच्चतम प्राथमिकता के साथ कार्य करने को निर्देशित किया। पत्रकारों को उन्होंने बताया कि बैठक में उपस्थित जनप्रतिनिधियों ने कई और आवश्यक एवं सार्थक सुझाव दिये। प्रभारी मंत्री होने के नाते हमने जिला पदाधिकारी, सिविल सर्जन एवं पुलिस अधीक्षक को उन सुझावों के आलोक में विधिसम्मत कार्रवाई करने का निर्देश दिया। ताकि जिले के लोगों को महामारी के दौरान परेशानी का सामना न करना पड़े।

Sponsored

 

 

समीक्षा बैठक में पूर्व केंद्रीय मंत्री छपरा के सांसद राजीव प्रताप रूडी , महराजगंज के सांसद जनार्दन सिंह सिग्रीवाल , बनियापुर के विधायक केदारनाथ सिंह एकमा के विधायक श्रीकांत यादव, छपरा के विधायक डॉ सी. एन. गुप्ता , तरैया के विधायक जनक सिंह , मढौरा के विधायक जितेंद्र कुमार राय परसा के विधायक छोटे लाल राय सोनपुर के विधायक डॉ रामानुज प्रसाद, विधान परिषद सदस्य वीरेंद्र नारायण यादव , सुनील कुमार सिंह सारण जिला परिषद अध्यक्ष मीना अरुण के अलावा सारण जिला के प्रमुख पदाधिकारी डीएम नीलेश देवड़े, एसपी संतोष कुमार , सिविल सर्जन डॉ० जनार्दन प्रसाद सुकुमार आदि उपस्थित थे।

Sponsored
Sponsored
Sponsored
Swaraj Shrivastava

Leave a Comment
Share
Published by
Swaraj Shrivastava
Sponsored
  • Recent Posts

    Sponsored