BIHARBreaking NewsMUZAFFARPURSTATE

अभी अभी; मधुबनी हत्याकांड का मुख्य आरोपी प्रवीण झा गिरफ्तार, किरकिरी के बाद पुलिस ने धर दबोचा

इस वक्त की बड़ी खबर मधुबनी से आ रही है, जहां 5 लोगों के मर्डर के 7 दिन बाद पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए मधुबनी कांड के आरोपी प्रवीन झा को गिरफ्तार कर लिया है.

Sponsored



Muzaffarpur Wow Ads Insert Website

Sponsored

बिहार के मधुबनी में होली के दिन एक ही जाति के 5 लोगों की निर्मम हत्या के मामले में पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया है. मुख्य आरोपी प्रवीण झा और भोला सिंह के साथ ही चंदन झा, कमलेश सिंह और मुकेश साफी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. इस हत्याकांड के बाद फिर बिहार में जातीय संघर्ष शुरू होने की आशंका जताई जा रही है.

Sponsored

दरअसल, 6 महीने पहले तालाब में मछली मारने को लेकर गैबीपुर गांव के दबंगों और महमदपुर गांव के पीड़ित परिवार के बीच जो विवाद शुरू हुआ था उसका इतना रक्त रंजित अंत होगा यह किसी ने भी नहीं सोचा था. इस विवाद में महमदपुर गांव के संजय सिंह और गैबीपुर गांव के मुकेश साफी ने एक दूसरे के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई थी.

Sponsored



Sponsored

एक तरफ जहां संजय सिंह ने गैबीपुर गांव के प्रवीण झा समेत गांव के अन्य लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई थी वहीं मुकेश साफी ने संजय सिंह समेत महमदपुर गांव के अन्य लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई थी. संजय सिंह इस मामले में फिलहाल जेल में बंद है.

Sponsored

होली के दिन पांच लोगों की हत्या
आरोप है कि होली के दिन प्रवीण झा ने हथियारों से लैस अपने 30-40 समर्थकों के साथ महमदपुर गांव पर हमला बोल दिया और हत्याकांड को अंजाम दिया. इस घटना में 2 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई जबकि तीन अन्य की इलाज के दौरान अस्पताल में दम तोड़ दिया.

Sponsored



Sponsored

नीतीश के मंत्री ने हत्याकांड को बताया नरसंहार
इस हत्याकांड को लेकर सबसे पहले नीतीश कुमार सरकार में वन एवं पर्यावरण विभाग के मंत्री नीरज कुमार बबलू ने अपनी आवाज उठाई और इसे नरसंहार करार दिया. मंत्री नीरज कुमार बबलू ने बिहार पुलिस को निकम्मा बताया और इस पूरे हत्याकांड में पुलिस और आरोपियों की मिलीभगत की बात भी कही थी.

Sponsored



Sponsored

तेजस्वी बोले- इस नरसंहार के पीछे बड़े-बड़े लोगों का हाथ
वहीं, आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने कहा, ‘ये नरसंहार है, मैं पीड़ित परिवार की बातें सुनकर हैरान हूं कि घटना कैसे हुई? पूरे गांव में डर का माहौल है, हत्या के बाद भी शरीर को काटा गया. इस नरसंहार में बड़े-बड़े लोगों का हाथ है, रावण सेना चलाने वाले प्रवीण झा को पूर्व मंत्री विनोद नारायण झा का संरक्षण मिला हुआ है.’

Sponsored

तेजस्वी यादव ने आगे कहा, ‘यहां जितने भी पुलिस अधिकारी हैं, आरोपी प्रवीण झा की सबसे बनती है. लोग कहते थे कि पुलिस नेपाल से पकड़कर लाते हैं लेकिन नीतीश कुमार की पुलिस प्रवीण झा नेपाल छोड़कर आई है. यहां न्याय के साथ विकास नहीं अन्याय के साथ विनाश हो रहा है.’

Sponsored



Sponsored

Input: AAJTAK

Sponsored
Sponsored
Share this Article !

Comment here