Breaking NewsNationalUncategorized

‘विराट सेना’ ने इंग्लैंड को चटाई धूल, निर्णायक मुकाबला जीतकर लगातार छठी सीरीज की अपने नाम

भारत ने नरेंद्र मोदी स्टेडियम में इंग्लैंड के खिलाफ खेले गये टी-20 इंटरनेशनल सीरीज (T20 Series) जीत ली है. इसके साथ ही इंग्लैंड के खिलाफ भारत (India) ने टेस्ट सीरीज के साथ टी-20 सीरीज भी जीता लिया है.

Sponsored

 

टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करतने उतरी टीम इंडिया के मजबूत शुरुआत के साथ 224 रन बनाए. जवाब में उतरी इंग्लैंड (England) की टीम 188 रन ही बना सकी. इस प्रकार भारत ने आखिरी टी-20 मैच 36 रन से जीत लिया. इंग्लैंड की ओर से सबसे अधिक 68 रन डेविड मलान ने बनाए. जोस बटलर ने उनका भरपूर साथ दिया और टीम के लिए 52 रन जोड़े. इसके बाद कोई भी बल्लेबाज नहीं चले.

Sponsored

Sponsored

 

सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा की 64 रन की शानदार पारी के बाद कप्तान विराट कोहली की नाबाद 80 रन की पारी से भारत ने शनिवार को यहां पांचवें और अंतिम टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच में दो विकेट पर 224 रन का विशाल स्कोर खड़ा किया. यह भारत का इस श्रृंखला में सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजी प्रयास भी है. श्रृंखला में चौथी बार टॉस गंवाने के बाद भारत को बल्लेबाजी का न्यौता मिला.

Sponsored

 

टी-20 विश्व कप की तैयारियों में जुटी भारतीय टीम सभी परिस्थितियों में सफलता हासिल करना चाहती है और उसने श्रृंखला के निर्णायक मुकाबले में दबाव में बावजूद टी-20 अंतरराष्ट्रीय में इंग्लैंड के खिलाफ अपना सबसे बड़ा स्कोर भी खड़ा किया. जोफ्रा आर्चर और मार्क वुड ने शुरू के मैचों में अपनी तेज रफ्तार से भारतीयों को परेशान किया था लेकिन रोहित (34 गेंद में 64 रन) और कोहली (52 गेंद में नाबाद 80 रन) ने इनके खिलाफ आक्रामक रवैया अपनाते हुए पहले विकेट के लिये 94 रन की साझेदारी बनायी.

Sponsored

Sponsored

 

उनके अलावा सूर्यकुमार यादव (17 गेंद में 32 रन) और हार्दिक पंड्या (17 गेंद में नाबाद 39 रन) ने भी योगदान दिया. मेजबानों ने अंतिम पांच ओवरों में 67 रन जोड़कर विपक्षी टीम को जीत के लिए विशाल लक्ष्य दिया. बेन स्टोक्स और आदिल राशिद को छोड़कर इंग्लैंड के सभी गेंदबाजों ने 10 रन प्रति ओवर से ज्यादा लुटाये जिसमें क्रिस जोर्डन (57 रन देकर कोई विकेट नहीं) सबसे ज्यादा खर्चीले रहे.

Sponsored

 

भारत ने सलामी बल्लेबाज लोकेश राहुल को बाहर रखने का फैसला किया ताकि तेज गेंदबाज टी नटराजन के रूप में अतिरिक्त गेंदबाजी विकल्प को अंतिम एकादश में शामिल किया जा सके. राहुल के नहीं खेलने से कोहली ने रोहित के साथ पारी का आगाज करने का फैसला किया जो टीम के लिए काफी बढ़िया साबित हुआ और इन दोनों ने 54 गेंद में 94 रन जोड़े. इस भागीदारी में रोहित से ज्यादातर रन बटोरे और कोहली दूसरे छोर पर स्ट्रोक्स भरी पारी का लुत्फ उठाते दिखे.

Sponsored

Sponsored

पहले दो मैचों में रोहित को आराम दिया गया था लेकिन वह अगले दो मैचों में कुछ अच्छा नहीं कर सके लेकिन उन्होंने शनिवार को बड़े मैच में अपनी ख्याति के अनुरूप पारी खेली. रोहित ने अपने पांचों छक्के अपने ‘ट्रेडमार्क’ शॉट से लगाये. उनके स्ट्रेट ड्राइव्स भी काफी मनोरंजक रहे जिसमें पहले ही ओवर में मार्क वुड पर लगा शॉट था. कोहली ने भी वुड की गेंद को स्टैंड तक पहुंचाया जिसके बाद वह काफी जोश में भर गये. रोहित ने अपना अर्धशतक छक्का लगाकर किया जो बिलकुल भी हैरानी भरा नहीं था. लेकिन इसके बाद वह स्टोक्स की गेंद पर बोल्ड हो गये.

Sponsored

Sponsored

इसके बाद कोहली ने अपनी पारी को खूबसूरत ढंग से आगे बढ़ाया जिसमें उन्हें दूसरे छोर पर सूर्यकुमार का साथ मिला, जिन्होंने अपने पदार्पण मैच की लय को यहां भी जारी रखा. मुंबई के इस बल्लेबाज ने लेग स्पिनर आदिल राशिद पर लगातार दो छक्के जड़े. इसके बाद जोर्डन पर लगातार तीन चौके जमाये जिससे इस ओवर में 19 रन बने और तब भारत का स्कोर 12 ओवर में एक विकेट पर 133 रन था. कोहली ने फिर हार्दिक के साथ मिलकर भारत को 200 रन के पार कराया.

Sponsored
Sponsored
Share this Article !

Comment here