BIHARBreaking NewsSTATE

बड़ी लापरवाही!, बिहार के स्वास्थ्य विभाग में मुर्दे का तबादला, मृत डॉक्टर को बना दिया शेखपुरा का सिविल सर्जन

बिहार सरकार के स्वास्थ्य विभाग ने अपने एक फैसले से सबको चौंका दिया है. सोमवार को राज्य के 12 जिलों में नये सिविल सर्जनों की तैनाती की है. लेकिन इन नये तैनाती में एक जिला ऐसा है जहां के नये सिविल सर्जन की चर्चा वहां के हर लोगों के बीच है. दरअसल विभाग ने शेखपुरा में जिस नये सिविल सर्जन(civil surgeon sheikhpura) की तैनाती की है उनका देहांत भी हो गया है.

Sponsored

राज्‍य मुख्‍यालय से जारी अधिसूचना के अनुसार, डॉ. रामनारायण राम को शेखपुरा में सिविल सर्जन पद पर तैनात किया गया है. लेकिन डॉ. रामनारायण राम का निधन एक महीना पहले ही हो चुका है. वो रोहतास में पदस्थापित थे. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, पिछले महीने वो कोरोना पॉजिटिव हो गए थे. जिसके बाद उनका देहांत हो गया था.

Sponsored

Muzaffarpur Wow Ads Insert Website

Sponsored

स्वास्थ्य महकमे की इस चूक की चर्चा तेजी से लोगों के बीच फैल रही है. विभाग की किरकिरी एक बार फिर ऐसे फैसले के कारण हो रही है. वो बिक्रमगंज प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र (Primary Health Center) के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी थे जिनका देहांत फरवरी महिने में हो गया था. 8 फरवरी को यहां के डॉक्टरों ने शोक सभा भी रखी थी और उन्हें श्रद्धांजलि दी थी.

Sponsored

बता दें कि स्वास्थ्य विभाग ने सोमवार को राज्य के 12 जिलों में नये सिविल सर्जनों की तैनाती की है. विभाग ने नये सिविल सर्जनों को अविलंब नव पदस्थापित जिले में योगदान करने का निर्देश दिया है.

Sponsored

Sponsored

Sponsored

Input: Prabhat Khabar

Sponsored
Sponsored
Share this Article !

Comment here