BIHARBreaking NewsSTATE

महज 1 नंबर से हुई थी फेल, छात्रा ने गर्ल्स हॉस्टल में कर लिया सुसाइड, कॉलेज में मचा बवाल

जिंदगी न नंबरों से जी जाती है और न पास-फेल से। भगवान का दिया हुआ जीवन दुनिया की हर चीज से अनमोल है, लेकिन बिहार सबौर कृषि विवि में UG के 5वें सेमेस्टर की छात्रा को यह बात समझ नहीं आई। 1 नंबर कम आने पर उसे बैक कर दिया गया तो उसने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। साथ पढ़ रहे छात्र-छात्राओं ने अभी तक जो मौत की वजह बताई है, वह यही कि परीक्षा में फेल होने पर छात्रा ने खुदकुशी कर ली है।

Sponsored

बिहार सबौर कृषि विवि परिसर के महिला छात्रावास में सुसाइड करने वाली छात्रा का नाम रिम्पा है। वह मूल रूप से सीवान की रहने वाली है। 5वें सेमेस्टर के रिजल्ट में वह फेल हो गई। डिप्रेशन में आकर महिला छात्रवास के अपने कमरे में फांसी लगा ली। घटना की जानकारी मिलते ही कृषि विवि सबौर के कुलपति डॉ RK सोहाने पहुंचे। सबौर थाने की पुलिस भी पहुंची और लाश को कमरे से बाहर किया गया, लेकिन सबौर कृषि कॉलेज के छात्रों का हंगामा जारी है।

Sponsored

Muzaffarpur Wow Ads Insert Website

Sponsored

नहीं फेल करने का भरोसा दिया, फिर भी फेल कर दिया

Sponsored

विवि प्रशासन और कॉलेज पर छात्रों ने आरोप लगाया है कि कोरोना काल में ऑनलाइन पढ़ाई हुई, जिस कारण उनलोगों को कॉन्सेप्ट समझ में नहीं आया। छात्रों ने अपनी समस्या कॉलेज प्रशासन के सामने रखी तो उन्हें आश्वासन दिया गया कि आप इम्तहान में शामिल हों, किसी को फेल नहीं किया जाएगा। बावजूद इसके रिम्पा को फेल कर दिया गया और उसने डिप्रेशन में खुदकुशी कर ली। छात्रों ने कहा कि बैक करने वाले विद्यार्थियों को मेन पेपर का एग्जाम भी साथ देना पड़ा। एक परीक्षा से दूसरी परीक्षा के बीच के डेढ घंटे के ब्रेक में 6 महीने की पढ़ाई कैसे पूरी हो पाएगी।

Sponsored

अभी तक विवि प्रशासन की तरफ से कोई जवाब नहीं
बिहार सबौर कृषि विवि परिसर के महिला छात्रावास में छात्रा की खुदकुशी की घटना के बाद पूरे विश्वविद्यालय में हड़कंप मच गया है। छात्र लगातार हंगामा कर रहे हैं। छात्रा रिम्पा की मौत का जेम्मेवार सीधे तौर पर विवि प्रशासन को ही मान रहा है। हालांकि इस पूरे मामले में अभी तक विवि प्रशासन की तरफ से कोई जवाब नहीं आया है।

Sponsored

Sponsored

Sponsored

Input: Bhaskar

Sponsored
Sponsored
Share this Article !

Comment here