BIHARBreaking NewsMUZAFFARPURSTATE

बिहार के जेलों में डॉक्टरों की होगी बहाली, 10 मई से शुरू होगी प्रक्रिया, 4 दिनों तक होगा इंटरव्यू

बिहार के विभिन्न केंद्रीय, मंडल और उप काराओं की चिकित्सका व्यवस्था को और बेहतर करने के लिए 70 डॉक्टरों की बहाली की जाएगी। बहाली वॉक इन इंटरव्यू पर होगी। प्रक्रिया 10 से 13 मई के बीच होगी। सभी बहाली संविदा (11 महीने) पर होगी। सभी आवेदक के मोबाइल में आरोग्य सेतु एप होना अनिवार्य है। मुजफ्फरपुर सेंट्रल जेल और इसके अधीन मंडल व उप काराओं में डॉक्टरों के पदों के अनुपात में 30 से 40 फीसदी कमी है। महिला चिकित्सकों का काराओं में अभाव है।

Sponsored


Muzaffarpur Wow Ads Insert Website

Sponsored

जेल आईजी मिथिलेश मिश्रा ने बताया कि सूबे के काराओं के लिए दो श्रेणियों में डॉक्टरों की बहाली की जाएगी। 13 विशेषज्ञ व 57 सामान्य चिकित्सकों की बहाली होगी। इसके लिए विभाग की ओर से कई शर्त रखी गई है। विशेषज्ञ चिकित्सक को 82 हजार और सामान्य चिकित्सक को 62 हजार प्रतिमाह भुगतान किया जाएगा।

Sponsored


Sponsored

चार दिनों तक होगा इंटरव्यू
जेल आईजी ने बताया कि डॉक्टरों का चयन वाक इन इंटरव्यू के आधार पर होगा। हाजीपुर स्थित बिहार सुधारात्मक प्रशासनिक संस्थान में सुबह 10 बजे से इंटरव्यू होगा। कोरोना प्रोटोकॉल के तहत अल्फाबेटिक तरीके से इंटरव्यू की व्यवस्था की गई है। 10 मई को ए से डी अल्फाबेट से शुरू होने वाले नामों के अभ्यर्थियों का इंटरव्यू होगा। 11 मई को ई से एम, 12 मई को एन से आर और 13 मई को एस से जेड तक के अभ्यर्थियों के लिए प्रक्रिया होगी।

Sponsored


Sponsored

जेल आईजी ने बताया कि इंटरव्यू के दौरान अभ्यर्थियों को शैक्षणिक प्रमाण पत्र के अलावा आवासीय, जाति, क्रीमिलेयर में नहीं आने से संबंधित प्रमाण पत्र लाना होगा। इसके अतिरिक्त बिहार राज्य चिकित्सा पर्षद से स्थायी निबंधन का मूल प्रमाण पत्र व तीन पासपोर्ट साइज फोटो भी लाना है।

Sponsored

Ads

Sponsored

Ads

Sponsored

Sponsored

Input: Hindustan

Sponsored
Sponsored
Share this Article !

Comment here