Breaking NewsNationalPoliticsSTATE

मास्टर जी गजब हैं: 23 साल में सैलरी मिली 36 लाख, लेकिन 24 शहरों में बना ली करोड़ों की संपत्ति

मध्यप्रदेश के एक प्राथमिक स्कूल के शिक्षक के पास से सवा पांच करोड़ रुपये की संपत्ति मिली है। यह चौंकाने वाला खुलासा लोकायुक्त भोपाल की दस सदस्यीय टीम की जांच में हुआ। मंगलवार को यह जांच की गई थी। टीम ने सुबह छह बजे प्राथमिक स्कूल के शिक्षक पंकज रामजन्म श्रीवास्तव के कई ठिकानों पर एक साथ छापेमारी की।

Sponsored

 

इन ठिकानों में भोपाल का मिनाल रेसीडेंसी स्थित मकान नंबर डी 413 और सारणी-बगडोना में एमजीएम कॉलोनी के घर शामिल हैं। इन छापेमारी से पंकज की बैतूल, छिंदवाड़ा, भोपाल और नागपुर में 24 से ज्यादा प्रॉपर्टी की जानकारी मिली है। जिसमें समरधा में प्लॉट, पिपरिया जाहिरपीर में एक एकड़ भूमि, छिंदवाड़ा में छह एकड़ भूमि, बैतूल में आठ आवासीय प्लॉट, बगडोना में छह दुकान और दस अलग-अलग गांवों में कुल 25 एकड़ की कृषि भूमि शामिल है।

Sponsored

 

बता दें कि पंकज घोड़ाडोंगरी ब्लॉक के रेंगाढाना में स्थित एक प्राथमिक स्कूल में शिक्षक है। फिलहाल पंकज की संपत्ति को लेकर अभी जांच चल रही है। पंकज के खिलाफ आय से ज्यादा संपत्ति और भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है।

Sponsored

 

टीम की ओर से की गई छापेमारी में पता चला कि पंकज क्षेत्र के जरूरतमंद लोगों को ऊंची ब्याज दर पर कर्जा देता था और उनकी संपत्ति को गिरवी रखता था। कर्ज लेने वाले अगर पैसा नहीं चुका पाते थे तो पंकज उनकी संपत्ति अपने नाम करवा लेता था। पंकज ने अपने मित्र के साथ श्रीराम आईटीआई संस्था के निर्माण कार्य में करीब 50 लाख रुपये का निवेश किया है।

Sponsored

 

लोकायुक्त अधिकारी डॉक्टर सलिल शर्मा का कहना है कि पंकज ने 1998 में शिक्षा विभाग में 2,256 रुपये के वेतन पर नौकरी ज्वाइन की थी। मौजूदा समय में पंकज का वेतन करीब 40,000 रुपये प्रति महीना है। लोकायुक्त अधिकारी ने बताया कि 23 साल की नौकरी में पंकज को 36,50,500 रुपये का वेतन मिला।

Sponsored

 

अधिकारी ने कहा कि इस वेतन से उसने करोड़ों की संपत्ति कैसे बना ली, ये जांच का विषय है। अधिकारी ने कहा कि आय और व्यय की गणना होगी, पंकज के पास से नकदी ज्यादा बरामद नहीं हुई है। पंकज के पिता वेस्टर्न कोल फील्ड लिमिटेड में पाथाखेड़ा सर्वेयर थे। पंकज ने बताया कि उन्हें रिटायरमेंट के बाद बड़ी राशि मिली थी।

Sponsored
Sponsored
Share this Article !

Comment here