Sponsored
Breaking News

पंचायत चुनाव में वोटर को लुभाने के लिए बांट रहा था 100 किलो रसगुल्ला, पुलिस ने भावी मुखिया को धर दबोचा

Sponsored

बिहार में मुखिया का चुनाव जल्द ही होने वाला है. मुखिया के साथ-साथ सरपंच, वार्ड सदस्य, पंच, पंचायत समिति सदस्य और जिला परिषद सदस्यों के भी चुनाव होने वाले हैं. उधर कोरोना के कारण उत्तर प्रदेश में भी एक साल की देरी से पंचायत का चुनाव कराया जा रहा है. पुलिस ने 100 किलो रसगुल्ला के साथ भावी मुखिया को गिरफ्तार किया है. इस घटना की काफी चर्चा हो रही है.

Sponsored

मामला उत्तर प्रदेश के अमरोहा जिले का है, जहां हसनपुर थाना की पुलिस ने 100 किलो रसगुल्ला के साथ भावी मुखिया को गिरफ्तार किया है. इस मामले में पुलिस ने आरोपी मुखिया प्रत्याशी के खिलाफ चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन के मामले में केस भी दर्ज किया है. उत्तर प्रदेश पुलिस की ओर से मिली जानकारी के मुताबिक अमरोहा जिले में यह पहली कार्रवाई है.

Sponsored

Sponsored

अमरोहा पुलिस ने बताया कि मामला हसनपुर थाना क्षेत्र का है. पुलिस के मुताबिक एक मुखिया प्रत्याशी वोटर को लुभाने के लिए रसगुल्ला बांट रहा था. इस दौरान किसी शख्स ने हसनपुर थाना की पुलिस को फोन कर सूचना दे दी. घटना की जानकारी मिलने के बाद यूपी पुलिस ने फौरन कार्रवाई करते हुए 100 किलो रसगुल्ला के साथ भावी मुखिया को गिरफ्तार कर लिया. पुलिस ने उसके पास से रसगुल्ले के सौ डिब्बे भी बरामद किये हैं.

Sponsored

बता दें कि उत्तर प्रदेश में हो रहे पंचायत चुनाव में जिला पंचायत सदस्य पद का चुनाव लड़ने वाला प्रत्याशी चुनाव में 1,50,000 तक खर्च कर सकता है. मुखिया पद प्रत्याशी और बीडीसी प्रत्याशी 75,000-75,000 रूपये तक खर्च कर सकता है. जबकि ग्राम पंचायत सदस्य चुनाव में 10,000 रूपये तक खर्च कर सकता है.

Sponsored

पंचायत चुनाव में पहले चरण की नामांकन प्रक्रिया शनिवार 3 अप्रैल से शुरू हो चुकी है. रविवार तक चलने वाली इस प्रक्रिया के तहत राज्य के 18 जिलों में ग्राम प्रधान, ग्राम पंचायत, क्षेत्र और जिला पंचायत सदस्य के पदों के लिए उम्मीदवार अपने नामांकन दाखिल करेंगे.इन दोनों दिनों में इन 18 जिलों के सभी विकास खंड मुख्यालयों पर सुबह 8 बजे से शाम 5 बजे के बीच नामांकन पत्र दाखिल किये जाएंगे.

Sponsored

आपको बता दें कि 19 अप्रैल को अमरोहा जिले में चुनाव होने वाला है. जबकि दो मई को चुनाव के नतीजे आएंगे. इस जिले में मुखिया प्रत्याशी को 100 किलो रसगुल्ला के साथ गिरफ्तार किया गया है. पुलिस ने बताया कि प्रधान पद का दावेदार गांव के वोटरों को लुभाने के लिए रसगुल्ले बांट रहा था. पुलिस ने आरोपी के खिलाफ चुनाव आचार संहिता उल्लंघन का मुकदमा दर्ज किया है.

Sponsored

Sponsored

Sponsored

Sponsored

Input: FirstBihar

Sponsored
Sponsored
Sponsored
Editor

Leave a Comment
Sponsored
  • Recent Posts

    Sponsored