Sponsored
Breaking News

रोजगार के मामले में राष्ट्रीय औसत से बिहार का बेहतर प्रदर्शन, मनरेगा के तहत 25 करोड़ मानव दिवस सृजन का लक्ष्य

बुधवार को विधानसभा में विकास मंत्री सरवण कुमार ने कहा कि चालू वित्तीय वर्ष 2021-22 में मनरेगा के तहत 20 करोड़ मानव दिवस सृजित किया गया है। जितने लोगों के काम के लिए अप्लाई किया था उन सभी को मनरेगा के तहत काम का अवसर उपलब्ध कराया गया है। मंत्री ने कहा कि कुछ ऐसे लोग भी हैं, जो आवेदन करने के बाद काम पर नहीं आते हैं दूसरे जगह ज्यादा मेहनताना मिलने के चलते वे नहीं आते हैं। मनरेगा के तहत 25 करोड़ मानव दिवस सृजित करने का लक्ष्य नए वित्तीय वर्ष 2022-23 में रखा गया है।

Sponsored

विधायक डॉ. रामानुज प्रसाद द्वारा सदन में पूछे गए सवाल के जवाब में मंत्री सरवण कुमार ने विधानसभा में जानकारी दी कि चालू वित्त वर्ष में अभी तक 59.17 लाख लोगों ने काम के लिए आवेदन किया है। जिसके विरुद्ध कुल 59.05 लाख लोगों को काम करने के अवसर उपलब्ध कराए गए हैं। यह आंकड़ा कुल मांग का 99.80 फीसद है जबकि राष्ट्रीय स्तर का आंकड़ा औसत 99.07 प्रतिशत हो है।

Sponsored

पंचायती राज्य मंत्री सम्राट चौधरी ने कहा है कि पंचायत स्तर के अधिकारियों के लिए बिहार सरकार जल्द ही नोडल अफसर तय करेगी। इसे निचले स्तर पर काम करने में सहूलियत मिलेगा। सर विधायक पवन में कुमार जायसवाल द्वारा पूछे गए सवाल का जवाब दे सम्राट चौधरी ने कहा कि पंचायतों पर नियंत्रण पंचायत स्तर के कर्मचारियों पर है।

Sponsored

पंचायत स्तर से उपस्थिति विवरण आएगी। जल्द ही समीक्षा कर नोडल अफसर को तय किया जाएगा। मंजू अग्रवाल द्वारा तारांकित सवाल के जवाब में सम्राट चौधरी ने कहा कि नए वित्तीय वर्ष में 3400 पंचायत सरकार भवन का निर्माण पूरा करके प्रशासनिक कार्य शुरू कर दिया जाएगा।

Sponsored
Sponsored
Abhishek Anand

Leave a Comment
Sponsored
  • Recent Posts

    Sponsored