Sponsored
Breaking News

तीसरा सुसाइड नोट और अंतिम संस्कार के दिन घर में चोरी… बीवी-बेटी के साथ JE के सुसाइड की गुत्थी उलझी

Sponsored

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में नलकूप विभाग के जूनियर इंजीनियर (जेई) शैलेंद्र कुमार ने बीते दिनों अपनी पत्नी और बेटी के साथ आत्महत्या कर ली थी. इस सुसाइड की गुत्थी हर दिन उलझती जा रही है. पुलिस के हाथ शैलेंद्र कुमार का एक और सुसाइट नोट मिला है. तीसरे सुसाइड नोट में मृतक जेई ने अपने भाई राजू के ऊपर गंभीर आरोप लगाया है.

Sponsored

तीसरे सुसाइड नोट में मृतक जेई शैलेंद्र कुमार ने अपने भाई राजू के ऊपर आरोप लगाया है कि राजू ने जमीन के कुछ हिस्से को गलत तरीके से बेच दिया और उसका पैसा रख लिया. यानी मृतक के साथ जालसाजी भी की गई. इस सुसाइड नोट के साथ ही मृतक शैलेंद्र कुमार, उनकी पत्नी और बेटी के अंतिम संस्कार के दिन उनके घर में चोरी की भी जांच पुलिस कर रही है.

Sponsored

एक के बाद एक मिलते सुसाइड नोट और तीनों के अंतिम संस्कार के दौरान हुई चोरी ने पुलिस को उलझा कर रखा दिया है. पुलिस पूरी घटना की कड़ी से कड़ी जोड़ने की कोशिश कर रही है. गौरतलब है कि पिछले दिनों ही जानकीपुरम के रहने वाले जेई शैलेंद्र कुमार ने अपनी पत्नी और बेटी के साथ जान दे दी थी. मौके से एक सुसाइड नोट मिला था.

Sponsored

इस सुसाइड नोट में पैसे के लिए चार लोगों द्वारा प्रताड़ित किए जाने का आरोप लगा था, लेकिन जब पुलिस ने चारों से पूछताछ की तो प्रताड़ित करने की बात सामने नहीं आई. इस बीच पुलिस को एक और सुसाइड नोट मिला था, जिसमें 75 लाख रुपये के कर्ज की बात थी, लेकिन मृतक के बैंक खाते में 80 लाख रुपया मिला, जिस वजह से मामला उलझ गया.

Sponsored

अब एक और सुसाइड नोट मिला है, जिसकी पुलिस छानबीन कर रही है. इस मामले में डीसीपी कासिम अब्दी ने कहना है कि तीसरे सुसाइड नोट में भाई राजू पर जमीन को गलत तरीके से बेचने और उसका पैसा हड़पने का आरोप लगा है, हम राजू को बुलाकर पूछताछ कर रहे हैं और घर में हुई चोरी की भी जांच कर रहे हैं.

Sponsored

केक खाकर पत्नी-बेटी के साथ जेई ने दी थी जान

Sponsored

सुसाइड के दौरान मृतक जेई शैलेंद्र ने घर में केक काटा था और सबको केक खिलाया था. यही नहीं केक खिलाते समय जेई शैलेंद्र कुमार ने कहा था, ‘अब हम सबको अगला जन्मदिन मुबारक हो.’ पड़ोसी लव कुश के मुताबिक, जहर खाने के बाद जैसे ही हम लोगों को पता लगा हम दरवाजा कूदकर अंदर गए तो देखा कि सब तड़प रहे हैं.

Sponsored

लवकुश ने कहा कि सभी घर की गैलरी में जमीन पर पड़े तड़प रहे थे, जब हमने उनको उठा कर अस्पताल ले जाने लगे तो तड़पते हुए मना करने लगे, नहीं जाना अस्पताल छोड़ दो-छोड़ दो, जिसको सुनकर हम सभी लोग चौंक गए कि आखिर क्यों अस्पताल नहीं जाना चाहते हैं, हालांकि हम अस्पताल लेकर फिर भी पहुंचे लेकिन वहां पर उनकी मौत हो गई.

Sponsored
Sponsored
Sponsored
Abhishek Anand

Leave a Comment
Sponsored
  • Recent Posts

    Sponsored