Sponsored
ADMINISTRATION

सांसद में रेल मंत्री का बड़ा बयान, कहा— सीनियर सिटीजन हो या कोई और रेल टिकट पर छूट नहीं दे सकते

Sponsored

NEW DELHI : सांसद में रेल मंत्री का बड़ा बयान, कहा— सीनियर सिटीजन हो या कोई और रेल टिकट पर छूट नहीं दे सकते, रेलमंत्री ने कहा, छूट बहाल करने के लिए कई अभ्यावेदन मिले, महामारी को देखते हुए 20 मार्च 2020 से रियायत खत्म हो गई

Sponsored

रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने संसद को सूचित किया कि कोरोना महामारी शुरू होने के बाद रेल टिकटों में दी जाने वाली रियायत या छूट रोक दी गई थी। फिलहाल उसे बहाल कर पाना व्यवहारिक नहीं है।

Sponsored

वैष्णव ने एक प्रश्न के लिखित जवाब में राज्यसभा को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि रेल टिकटों में दी जाने वाली रियायत या छूट बहाल करने के लिए कई अभ्यावेदन मिले हैं। महामारी और कोविड प्रोटोकॉल को देखते हुए 20 मार्च 2020 से दिव्यांगजन की चार श्रेणियों और मरीजों तथा विद्यार्थियों की 11 श्रेणियों को छोड़ कर सभी श्रेणी के यात्रियों के लिए रेल टिकटों में दी जाने वाली रियायत या छूट को वापस ले लिया गया था।

Sponsored

कोविड काल से पहले रेलवे रेल टिकटों में 54 श्रेणियों में रियायत या छूट देती थी। बता दें कि पहले वरिष्ठ नागरिकों को पर 50 फीसदी तक की रियायत मिलती थी।

Sponsored
Sponsored
Sponsored
Abhishek Anand

Leave a Comment
Sponsored
  • Recent Posts

    Sponsored