Sponsored
ADMINISTRATION

शराबबंदी के विरोध में उतरे बिहार BJP के विधायक, कहा-छोटे-छोटे बच्चे भी कर रहे हैं होम डिलीवरी

Sponsored

BJP विधायक ने शराबबंदी कानून का किया विरोध, कहा-छोटे बच्चों ने होम डिलीवरी को बनाया करियर : बिहार में लागू शराबबंदी कानून (Bihar Liquor Ban) को लेकर अब सरकार अपने ही लोगों से घिरती नजर आ रही है. ताजा मामला बेगूसराय के विधायक कुंदन कुमार सिंह (Begusarai MLA Kundan Kumar Singh) से जुड़ा है जिन्होंने भी शराबबंदी कानून को फेलियर बताते हुए समीक्षा करने की बात कही है.

Sponsored

विधायक कुंदन कुमार सिंह ने कहा कि आज शराबबंदी कानून (Liquor Ban Policy) आने के बाद छोटे-छोटे बच्चों ने शराब की होम डिलीवरी को अपना करियर बना लिया है और कहीं ना कहीं यह लोगों की एक पीढी को बर्बाद करने का काम कर रही है. विधायक कुंदन कुमार सिंह ने कहा कि शराबबंदी कानून आने के बाद लोगों को अवैध धन उगाही का मौका मिला और आज वही लोग पंचायत चुनाव के माध्यम से अवैध कमाई की बदौलत जीत कर समाज की बागडोर संभालने की तैयारी कर रहे हैं.

Sponsored

विधायक ने कहा कि जब शराब कारोबार से जुड़े लोग पंचायत के प्रतिनिधि होंगे तब इस समाज का क्या होगा यह सोचने की बात है, वहीं विधायक कुंदन कुमार सिंह ने कहा कि आज स्कूल में पढ़ने वाले बच्चे शराब कारोबार के बीच अपना करियर खोज रहे हैं. शाम ढलते ही शराब की होम डिलीवरी में लिप्त हो जाते हैं. इतना ही नहीं शराबबंदी की वजह से आज बिहार में ड्रग्स या अन्य नशे के साजो सामान की ओर लोगों का झुकाव हुआ है.

Sponsored

उन्होंने कहा शराबबंदी की वजह से एक तरफ जहां सरकारी राजस्व की क्षति हुई तो समाज में कई कुरीतियां भी उत्पन्न हुई और लोग अपराध के दलदल में फंसते चले गए. कुल मिलाकर इस स्थिति को देखते हुए शराबबंदी कानून में समीक्षा की जरूरत है. देखा जाए तो बिहार में भाजपा और जदयू की सरकार शराबबंदी कानून को लेकर अब अपने ही लोगों से घिरती चली जा रही है. कुंदन कुमार सिंह से पहले भी बीजेपी के कुछ विधायक नीतीश कुमार की शराबबंदी कानून की सफलता, नियम और प्रावधानों पर सवाल खड़े कर चुके हैं.

Sponsored
Sponsored
Sponsored
Abhishek Anand

Leave a Comment
Sponsored
  • Recent Posts

    Sponsored