BankBIHARBreaking NewsEDUCATIONLife StyleMUZAFFARPURNationalPATNAPoliticsSTATE

बीड़ी बनाने वाली मजदूर से सुप्रसिद्ध स्टार बनने वाली 59 वर्षीय गंगव्वा की कहानी

वर्ष 2012 के प्रसिद्ध गंगनाम गीत और इसके कलाकार गंगनम के बारे में तो हम सभी जानते ही हैं – दक्षिण भारत में शायद ही कोई ऐसा नाम होगा जिसने इतनी प्रसिद्धि पाई हो। आज हम आपको तेलंगाना की एक सुप्रसिद्ध यूट्यूब स्टार गंगव्वा दादी से मिलवाने जा रहे हैं। वह अभी तक गंगनम जितनी प्रसिद्धि तो नहीं पाई हैं, लेकिन निश्चित रूप से उनके भीतर एक वैसी ही विलक्षण प्रतिभा है – वह प्रतिभा जिसने लाखों लोगों को उनका फैन बनाते हुए उन्हें यूट्यूब का एक सुप्रसिद्ध स्टार बना दिया।

Sponsored

गाँव में एक संघर्ष भरा जीवन जीने वाली 59 वर्षीय मिल्कुरी गंगव्वा का जीवन एक शराबी पति, तीन बच्चों और खेत में मजदूरी के बीच बीता। वह खेतों में कुली के रूप काम किया करती थी और साथ में वैकल्पिक काम के रूप में बीड़ी बनाने का धंधा।

Sponsored

गंगव्वा दादी की जिंदगी तब बदल गई जब उन्हें अपनी छिपी प्रतिभा को तलाशने का मौका मिला। दो युवा और तकनीक के जानकार श्रीकांत श्रीराम (गंगव्वा दादी के दामाद) और अनिल गिला ने दादी के गाँव मल्लीयाल मंडल में गाँव के जीवन पर फिल्म बनाने का फैसला किया। वर्ष 2016 में, दादी के दामाद ने फिल्म की शूटिंग गांव में शुरू की और अपनी सास को वीडियो में दिखाया।

Sponsored

“श्रीराम ने गाँव में पौधों, झाड़ियों और पेड़ों को फिल्माया, लेकिन मुझे लगा कि लड़का अपना समय बर्बाद कर रहा है? मैंने कभी नहीं सोचा था कि यह वीडियो एक दिन मेरी जिंदगी बदल देगा ”, गंगव्वा दादी ने एक साक्षात्कार में मीडिया को बताया।

Sponsored

जल्द ही, एक मजाकिया और व्यंग्यपूर्ण तरीके से गाँव के जीवन को चित्रित करने वाला यह वीडियो यूट्यूब पर बहुत लोकप्रिय हो गया और गंगव्वा दादी इस शो का लोकप्रिय चेहरा बन गईं। उनकी लोकप्रियता को विभिन्न टीवी शो और फिल्मों के प्रस्ताव मिले और उन्होंने तेलंगाना राज्य में अपने गांव से शहरों की यात्रा शुरू की।

Sponsored

किसी भी औपचारिक शिक्षा के बिना, गंगव्वा दादी की विशिष्ट तेलुगु उच्चारण ने उन्हें तेलुगु सिनेमा में लोकप्रिय बना दिया। अपनी यूट्यूब श्रृंखला की सफलता के बाद, गंगव्वा दादी अब एक अभिनेत्री के रूप में काम करना शुरू कर दिया है। वह मल्लेश्वरम और iSmartShankar जैसी तेलुगु फिल्मों में भी अपने अभिनय का जादू दिखा चुकी हैं। उन्हें तेलंगाना के राज्यपाल तमिलिसाई साउंडराजन से भी वुमन अचीवर पुरस्कार मिला है।

Sponsored

सितंबर 2020 तक, गंगव्वा दादी के यूट्यूब शो “माय विलेज शो” के 1.65 मिलियन फॉलोअर्स हैं और उनके इंस्टाग्राम अकाउंट में 48 हजार फॉलोअर्स हैं

Sponsored

गंगव्वा दादी ने अपनी प्रतिभा से सबको लोहा मनवाया है। उन्होंने साबित कर दिखाया है कि सफलता प्राप्त करने के लिए औपचारिक शिक्षा की कोई जरुरत नहीं बल्कि लक्ष्य के लिए दृढ़ इच्छाशक्ति की जरुरत होती है।

Sponsored

 

 

 

input – .kenfolios

Sponsored
Sponsored
Share this Article !

Comment here