AccidentBankBIHARBreaking NewsMUZAFFARPURNationalPATNAPoliticsSTATEUncategorized

बिहार में पांंच दिनों बाद आ सकता है बड़ा बिजली संकट, कोयले की सप्लाई चेन बाधित होने पर आएगी समस्या

राज्य ब्यूरो, पटना : बिजली उत्पादन इकाइयों को कोयले की आपूर्ति के राष्ट्रीय संकट के बीच बिहार स्थित एनटीपीसी की उत्पादन इकाइयों के बीच फिलहाल कोल संकट की स्थिति नहीं है। अगर पांच दिनों तक कोयले की आपूर्ति की चेन बाधित हुई तो बिहार में बिजली का बड़ा संकट उत्पन्न हो जाएगा। बिजली कंपनी अन्य स्रोतों से भी करार के तहत बिजली लेती है पर बाजार में जरूरत के हिसाब से काफी कम बिजली उपलब्ध है। एनटीपीसी के एक अधिकारी ने बताया है कि कोल आपूर्ति की जो सप्लाई चेन है वह अभी प्रभावित नहीं हुई है।

Loading...
Sponsored

एनटीपीसी की एक इकाई फिलहाल मेंटेनेंस में

Loading...
Sponsored

जानकारी के अनुसार बाढ़ स्थित एनटीपीसी की एक इकाई फिलहाल मेंटेनेंस में है। उक्त इकाई को छोड़ सभी जगहों पर स्थित उत्पादन इकाईयों से निर्बाध बिजली की आपूर्ति हो रही है। मांग के हिसाब से चार हजार मेगावाट तक बिजली एनटीपीसी की उत्पादन इकाईयों से मिल रही। ऊर्जा क्रय को ले अन्य कंपनियों से हुए करार के तहत भी बिजली की आपूर्ति हो रही है।

Loading...
Sponsored
  • – कोयले की सप्लाई चेन बाधित होने पर आ सकता है बिजली का संकट
  • – बिहार स्थित एनटीपीसी की उत्पादन इकाइयों में अभी कोयले का संकट नहीं
  • – बाढ़ की एक उत्पादन इकाई को छोड़ सभी जगह से हो रही आपूर्ति
  • – बाढ़ स्थित एनटीपीसी की एक इकाई फिलहाल मेंटेनेंस में
  • – कंपनियों से हुए करार के तहत हो रही बिजली आपूर्ति
  • – एनटीपीसी के अधिकारी बोले कोल आपूर्ति की सप्लाई चेन प्रभावित नहीं

 

यहां बिजली की आपूर्ति पूर्व के शिड्यूल के हिसाब से

Loading...
Sponsored

बिहार में एनटीपीसी की बाढ़, कहलगांव, कांटी, बरौनी व नवीनगर में उत्पादन इकाई है। इन सभी जगहों से बिजली की आपूर्ति पूर्व के शिड्यूल के हिसाब से है। एनटीपीसी के एक अधिकारी ने बताया कि कोल आपूर्ति की जो सप्लाई चेन है वह अभी प्रभावित नहीं हुई है। इस वजह से कोई परेशानी नहीं है। अगर सप्लाई चेन प्रभावित भी होती है तो चार से पांच दिन तक कोयले को लेकर कोई परेशानी नहीं होगी।

Loading...
Sponsored

 

 

 

input – jagran

Loading...
Sponsored
Loading...
Sponsored
Share this Article !

Comment here