BIHARBreaking NewsSTATE

बिहार में अगले 3 दिनों में मौसम दिखायेगा रौद्र रूप, इन जिलों में जबरदस्त बारिश का अलर्ट

weather alert bihar

बिहार में एक बार फिर से मौसम में बदलाव देखने को मिलेगा। अगले कुछ दिनों के दौरान सूबे के अलग-अलग जिलों में जोरदार बारिश का अलर्ट का जारी किया गया है। मौसम विभाग के मुताबिक, पटना, गया, मुजफ्फरपुर समेत प्रदेश के सभी प्रमुख जिलों में बारिश की संभावना बन रही है। मानसून ट्रफ बिहार की तरफ शिफ्ट हो रहा है जिसकी वजह से मौसम में बदलाव के आसार हैं। जानकारी के मुताबिक, इस मॉनसून 17 फीसदी ज्यादा बारिश हुई है।

Sponsored

बिहार में एक बार फिर बदलेगा मौसम
पटना मौसम विज्ञान केंद्र की ओर से जारी अपडेट के अनुसार, बंगाल की खाड़ी के ऊपरी हिस्से में बना मानसून ट्रफ लाइन धीरे-धीरे बिहार के गया की ओर शिफ्ट हो रहा है। इसके साथ ही चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र भी बिहार और पूर्वी उत्तर प्रदेश के ऊपरी हिस्से में बन रहा है। इस स्थिति में सूबे के कई जिलों में तेज बारिश की संभावना जताई गई है। पूर्वी उत्तर प्रदेश के कई इलाकों में भी बारिश हो सकती है। ट्रफ लाइन मूल रूप से कम दबाव का एक लम्बा क्षेत्र होता है।

Sponsored

इसलिए बन रहे बारिश के आसार
पटना मौसम विभाग केंद्र से जुड़े अधिकारी ने बताया कि मानसून ट्रफ लाइन वर्तमान में पूर्वी उत्तर प्रदेश से बांग्लादेश के कई इलाकों, पश्चिम बंगाल, बिहार के गया दक्षिण पूर्व में असम और मणिपुर को कवर करती हुई आगे बढ़ रही है। बारिश के आसार इसलिए भी बन रहे क्योंकि बिहार और इससे सटे उत्तर प्रदेश में चक्रवाती हवा और नमी है।

Sponsored

6 से 12 सितंबर तक बारिश की संभावना
पटना मौसम विज्ञान केंद्र के एक अधिकारी ने कहा कि अगले तीन से चार दिनों में बिहार के अधिकांश जिलों में हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है। माना जा रहा कि बिहार में 6 से 12 सितंबर के बीच बारिश के आसार बन रहे हैं। इस साल मॉनसून में अब तक सामान्य से 17 फीसदी अधिक बारिश हुई है।

Sponsored

मौसम विभाग के अधिकारी ने बताया कि जून और जुलाई के महीने में बारिश अगस्त की तुलना में ज्यादा हुई थी। जुलाई अंत तक राज्य में लगभग 45 फीसदी ज्यादा वर्षा दर्ज की गई थी। हालांकि, अगस्त में इसकी तीव्रता कम ही रही। हालांकि, इस बार मॉनसूनी बारिश के ठीक होने की उम्मीद जताई जा रही है। आने वाले दिनों में और अधिक बारिश की उम्मीद है।

Sponsored

Sponsored

Input: navbharattimes

Sponsored
Sponsored
Share this Article !

Comment here