BIHARBreaking NewsNationalPoliticsSTATE

बिहार चुनाव से पहले BJP अध्‍यक्ष जेपी नड्डा ने अपनी नई टीम का किया एलान, जानें किसे क्‍या मिली जिम्‍मेदारी

भाजपा अध्‍यक्ष जेपी नड्डा (JP Nadda) ने शनिवार को अपनी नई टीम की घोषणा की। भाजपा की राष्‍ट्रीय टीम में छत्‍तीसगढ़ के पूर्व मुख्‍यमंत्री रमन सिंह, राजस्‍थान की पूर्व मुख्‍यमंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया, झारखंड के पूर्व मुख्‍यमंत्री रघुवर दास और पश्चिम बंगाल में भाजपा के चर्चित चेहरे मुकुल रॉय को राष्‍ट्रीय उपाध्‍यक्ष के तौर पर बड़ी जिम्‍मेदारी मिली है। बिहार जहां आगामी विधानसभा चुनाव होने जा रहे हैं वहां से सांसद राधा मोहन सिंह को भी राष्‍ट्रीय उपाध्‍यक्ष जैसी बड़ी जिम्‍मेदारी मिली है।

Sponsored

 

Sponsored

 

 

मध्‍य प्रदेश के चर्चित चेहरा कैलाश विजयवर्गीय को राष्‍ट्रीय महामंत्री बनाया गया है। भाजपा सांसद तेजस्वी सूर्या को पार्टी के युवा मोर्चा का नया अध्यक्ष नियुक्त किया गया है। रिपोर्टों के मुताबिक, अप्रैल महीने में ही नई टीम की घोषणा होनी थी लेकिन कोरोना (Covid-19) संकट के चलते इसे टालना पड़ा था। यूपी के अमित मालवीय को राष्‍ट्रीय आईटी और सोशल मीडिया प्रभारी की जिम्‍मेदारी मिली है। सांसद राजकुमार चाहर को किसान मोर्चा का प्रभारी बनाया गया है।

Sponsored

Sponsored

 

 

भाजपा अध्‍यक्ष ने अपनी नई टीम का एलान ऐसे वक्‍त में किया है जब बिहार विधानसभा चुनाव के लिए तारीखों का एलान किया जा चुका है। यही नहीं देश के कई राज्‍यों में लोकसभा और विधानसभा की सीटों पर उपचुनाव भी होने वाले हैं। निर्वाचन आयोग के मुताबिक, बिहार विधानसभा चुनाव तीन चरणों में… 28 अक्टूबर, तीन नवंबर और सात नवंबर को होंगे। मतगणना 10 नवंबर को होगी। ये चुनाव कोरोना काल में होने जा रहे हैं।

Sponsored

Sponsored

 

 

यही नहीं मध्‍य प्रदेश में विधानसभा की 28 सीटों पर भी उपचुनाव होने वाले हैं। मध्‍य प्रदेश में पहले कांग्रेस की सरकार थी। लेकिन बाद में ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया ने कमलनाथ के खिलाफ बगावत का बिगुल फूंक दिया था। ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया के साथ कई समर्थक विधायकों ने पार्टी छोड़ दी थी। इसके बाद सरकार अल्‍पमत में आ गई थी। कांग्रेस की सरकार गिरने के बाद भाजपा को मौका मिला और उसने शिवराज सिंह चौहान की अगुवाई में सरकार का गठन किया।

Sponsored

मौजूदा वक्‍त में बिहार में भी भाजपा और जदयू की गठबंधन सरकार है। बिहार में भाजपा और जदयू के सामने दोबारा सत्‍ता हासिल करने जबकि मध्‍य प्रदेश में BJP के सामने सत्‍ता में बने रहने की चुनौती है। ऐसे में भाजपा अध्‍यक्ष जेपी नड्डा के लिए भी अपनी नई टीम के प्रभाव और उसके दबदबे को साबित करने की चुनौती होगी। वैसे कोरोना काल में होने वाले इन चुनावों में पहले जैसा धूम धड़ाका और रैलियों का रेला नजर नहीं आने वाला है…

Sponsored
Sponsored
Share this Article !

Comment here