BIHARBreaking NewsSTATE

बिहार चुनाव: कांग्रेस से आए नेता को टिकट देने पर JDU में बगावत, लगी इस्तीफों की झड़ी

बिहार विधानसभा चुनाव के लिए राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) में तो सीटों का बंटवारा हो गया है, मगर असल चुनौती अब उनके सामने है. क्योंकि चुनाव में टिकट को लेकर नेता बगावत पर उतर आए हैं. राजग में शामिल जनता दल यूनाइटेड (जदयू) में आने वाले नेताओं को टिकट मिलने पर पार्टी के अंदर बवाल शुरू हो गया है. दूसरे दलों से आए नेताओं को पार्टी कार्यकर्ता पचा नहीं पा रहे हैं. जिसका नतीजा ये है कि वह खुद ही पार्टी छोड़ने लगे हैं.

Sponsored

 

Sponsored

शेखपुरा के बरबीघा विधानसभा सीट से जदयू ने कांग्रेस से आए सुदर्शन कुमार को अपना उम्मीदवार बनाया है, जिन्होंने मंगलवार को नामांकन दाखिल किया.

Sponsored

इससे जदयू के कार्यकर्ता नाराज हो गए एक साथ कई नेताओं ने पार्टी से इस्तीफा दे डाला. कांग्रेस से आए नेता को टिकट मिलने पर शेखपुरा में जदयू से इस्तीफों की झड़ी लग गई. बरबीघा से जदयू के प्रभारी डॉ. राकेश रंजन के साथ विधानसभा के दो दर्जन पार्टी से जुड़े नेताओं ने इस्तीफा दे दिया, जिसमें कई प्रकोष्ठ के नेता भी शामिल हैं.

Sponsored

Sponsored

बागी नेता राकेश रंजन का कहना है कि सुदर्शन कुमार ने कांग्रेस में रहते हुए पार्टी कार्यकर्ताओं की शुरुआत के दिनों में उपेक्षा की. पिछड़ा अति पिछड़ी जाति वाले गांवों में विकास का काम नहीं कराया गया. उन्होंने कहा कि कांग्रेस से जदयू में आए विधायक को टिकट दिया जाना पार्टी कार्यकर्ताओं का अपमान है. वहीं इन इस्तीफों पर जदयू के जिला अध्यक्ष अंजनी कुमार ने कहा कि सोशल मीडिया के जरिए उन्हें राकेश रंजन के इस्तीफे की सूचना से मिली है.

Sponsored

उल्लेखनीय है कि बिहार चुनाव को लेकर मंगलवार को राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के घटक दलों के बीच सीट बंटवारे की घोषणा कर दी गई. नीतीश कुमार ने इसकी घोषणा करते हुए कहा कि राजग में शामिल भाजपा के हिस्से में 121 सीटें, जबकि जदयू के हिस्से में 122 सीटें आई हैं. बता दें कि बिहार विधानसभा की 243 सीटों के लिए तीन चरणों में 28 अक्टूबर (71 सीटें), तीन नवंबर (94 सीटें) सात नवंबर (78 सीटें) को मतदान होना है. मतगणना 10 नवंबर को होगी.

Sponsored

Sponsored

input: Newsnation

Sponsored
Sponsored
Share this Article !

Comment here