ADMINISTRATIONBIHARBreaking NewsEDUCATIONNationalPolicePolitics

पिता करते हैं मारुति कंपनी में काम, लगातार 4 बार असफल होने के बाद बेटी ने IPS अधिकारी बन पेश की मिसाल।

संघ लोक सेवा आयोग की सिविल परीक्षा बेहद कठिन और मुश्किल परीक्षा होती है। इस एग्जाम पास करने के लिए अभ्यर्थियों को निरंतर मेहनत के साथ सालों भर इंतजार करना पड़ता है। कई ऐसे युवा भी होते हैं जो मुश्किलों का सामना करते हुए कामयाबी हासिल करते हैं। ऐसे ही प्रेरक कहानी है 2017 बैच की आईपीएस अधिकारी मोहिता शर्मा की जिन्होंने घर की माली हालात के बावजूद दृढ़ निश्चय से इस परीक्षा में कामयाबी हासिल कर लोगों के लिए मिसाल पेश कर दी।

Loading...
Sponsored

यूपीएससी पाठशाला की रिपोर्ट के मुताबिक, मोहिता शर्मा हिमाचल के कांगड़ा की हैं। फैमिली के साथ वह बाद में दिल्ली आ गई थी। पिता मारुति कंपनी में काम करते और मां घर में ही कामकाज को देखती थी। घर की माली हालत ठीक नहीं थी इसके बावजूद भी मोहिता के पिता ने पढ़ाई में कोई कसर नहीं छोड़ी। मोहिता ने दृढ़ निश्चय और शानदार मेहनत के दम पर यूपीएससी क्रैक कर आईपीएस अधिकारी बन गई है।

Loading...
Sponsored

शुरुआती पढ़ाई दिल्ली के द्वारका से करने वाली मोहित ने भारतीय विद्यापीठ कॉलेज से इलेक्ट्रॉनिक्स और संचार में इंजीनियरिंग की पढ़ाई की है। इसके बाद उन्होंने साल 2012 में यूपीएससी की राह थाम ली। उचित जानकारी के अभाव में उन्हें लगातार चार बार फेल होना पड़ा। गलतियों से सीख कर उन्होंने सटीक रणनीति से पांचवे प्रयास में परीक्षा पास करने में सफलता हासिल की।

Loading...
Sponsored

यूपीएससी पाठशाला की रिपोर्ट के मुताबिक, मोहिता शर्मा हिमाचल के कांगड़ा की हैं। फैमिली के साथ वह बाद में दिल्ली आ गई थी। पिता मारुति कंपनी में काम करते और मां घर में ही कामकाज को देखती थी। घर की माली हालत ठीक नहीं थी इसके बावजूद भी मोहिता के पिता ने पढ़ाई में कोई कसर नहीं छोड़ी। मोहिता ने दृढ़ निश्चय और शानदार मेहनत के दम पर यूपीएससी क्रैक कर आईपीएस अधिकारी बन गई है।

Loading...
Sponsored

यूपीएससी की तैयारी कर रहे हैं अभ्यर्थियों के लिए मोहिता कहती है कि इंटरनेट पर तमाम जानकारियां विस्तार रूप से उपलब्ध है। इसकी सहायता से आसानी से नोट्स बनाकर बेहतर तैयारी की जा सकती है।

Loading...
Sponsored
Loading...
Sponsored
Share this Article !

Comment here