ADMINISTRATIONBIHARBreaking NewsNationalNaturePolicePolitics

पटना के बाजार में घूमता मिला होम आइसोलेशन में रखा गया मरीज, स्वास्थ्य विभाग से फोन जाने पर हुआ खुलासा

पटना में कोविड के बढ़ते मामले को देखते हुए जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग की टीम अब सख्त हो गयी है. होम आइसोलेशन में रहने वाले मरीजों पर निगरानी तेज कर दी गयी है. कोविड कमांड रूम से कोरोना मरीजों को लगातार फोन कर जानकारी ली जा रही है. कई संक्रमितों के घर फोन करने पर उनके परिजन फोन उठाते हैं और पूछने पर बताते हैं कि कोरोना संक्रमित बाजार गये हुए हैं. ऐसी सूचना मिलते ही स्वास्थ्य टीम के सदस्य ने उनके घर पहुंच चेतावनी दी है. उनसे कहा गया है कि मरीज नियमों को तोड़ बाहर घूम रहे हैं, तो उसे पाटलिपुत्रा खेल मैदान में बने आइसोलेशन सेंटर भेजा जायेगा.

Loading...
Sponsored

सिविल सर्जन डॉ विभा कुमारी ने बताया कि ऑनलाइन मीटिंग पर जिलाधिकारी लेवल पर मॉनिटरिंग की जा रही है. संक्रमितों के संपर्क में आने वालों को चिह्नित कर उनकी जांच का दायरा बढ़ाने और तेजी लाने के निर्देश दिये गये हैं. इतना ही नहीं जिस घर में संक्रमित पाये जाते हैं. उसके सगे संबंधियों के संपर्क में आये लोगों की भी जांच कराने को कहा गया है. साथ ही जागरूकता अभियान के तौर पर चलाने को कहा गया है.

Loading...
Sponsored

बढ़ेगी सख्ती

  • पूरे जिले में कोरोना की दूसरी लहर की तरह सघन सेनिटाइजेशन होगा
  • सार्वजनिक स्थानों, अपार्टमेंट में कोरोना के अधिक केस मिलते है तो उसे मिनी कंटेनमेंट जोन घोषित किया जायेगा
  • कोविड संक्रमित आये लोगों के घर सेनिटाइजेशन कराया जायेगा
  • अगर जरूरत पड़ी तो होम आइसोलेशन मरीजों के घर दवाओं की कीट भी उपलब्ध करायी जायेगी
  • जिले के सभी निगरानी समितियों को सक्रिय किया जायेगा
  • सभी मेडिकल कॉलेज अस्पताल में बने कोविड वार्ड में पर्याप्त डॉक्टर, दवा, ऑक्सीजन उपलब्ध कराने के निर्देश दिये गये हैं

Loading...
Sponsored
Share this Article !

Comment here