ADMINISTRATIONAUTOMOBILESBIHARBUSINESSEDUCATION

पटना की अर्चना पांडे बनी बिहार की पहली महिला कैब ड्राइवर, 4 बच्चों की मां ने लोन लेकर कार खरीदा

PATNA : पटना की अर्चना पांडे बनी बिहार की पहली महिला कैब ड्राइवर, चार बच्चों की मां ने बैंक से लोन लेकर कार खरीदा : बेटियां अब बोझ नहीं होती। वह हर कदम पर बेटों का मुकाबला करना अच्छी तरह से जानती है। बस उनको जरूरत ​है कि उनके हौंसला को बढ़ावा दिया जाए। तभी पंचायत चुनाव हो या खेल का मैदान। कारोबार हो या खेत का खलिहान वह हर जगह अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाना जानती है। आज हम आपको एक ऐसी ही बेटी के बारे में बताने जा रहे है…

Loading...
Sponsored

अर्चना पांडे बनीं पटना की पहली महिला कैब ड्राइवर : राजधानी की अर्चना पांडे पटना की पहली महिला कैब ड्राइवर बनी हैं। अनिसाबाद की रहने वाली 34 वर्षीय अर्चना पांडे चार बच्चों की परवरिश करने के लिए कैब कैप चलाना शुरू किया है।

Loading...
Sponsored

अर्चना पांडे बताती हैं कि वह शुरू से अच्छी चालक चालक रही हैं। लेकिन शादी के बाद उसका यह हुनर कहीं गुम हो गया था। परिवारिक जिम्मेदारियों और बच्चों में ही उनकी दुनिया थी। वह मसाले का बिजनेस शुरू किया लेकिन अनुभव की कमी के कारण व्यापार चल नहीं सका। इसके बाद कई कंपनियों में काम किया। उन पैसों से बच्चों की परवरिश नहीं हो पा रही थी। इसलिए अपने हुनर को ही कैरियर के रूप में अपनाना सही समझा।

Loading...
Sponsored

अर्चना पांडे ने बैंक से लोन लेकर कार खरीदी और खुद ड्राइविंग करने लगी। शुरू में जान पहचान के लोगों के लिए गाड़ी चलाती थी। धीरे-धीरे लोगों से पहचान बनी तो ट्रैवल एजेंसी के लिए कैब चलाना शुरू कर दिया है। वह कैब से बिहार के सभी जिलों में जा चुकी हैं। महिलाएं इनके साथ जाना अधिक सुरक्षित समझती हैं।

Loading...
Sponsored
Loading...
Sponsored
Share this Article !

Comment here