ADMINISTRATIONBIHARBreaking NewsMUZAFFARPURNationalPoliticsSTATE

झारखण्ड की खुशबू अब होगी बिहार में अफसर बेटी, BPSC में आया 147वां रैंक, शुरू से रही है टॉपर

झारखण्ड की रहनेवाली खुशबू अब बिहार में अधिकारी कहलाएगी। बिहार पब्लिक सर्विस कमीशन (बीपीएससी) के नतीजों में उसे 147वां रैंक हासिल हुआ है। अपनी सफलता का श्रेय………………..

झारखण्ड की राजधानी रांची में रहनेवाली खुशबू अब बिहार में अधिकारी कहलाएगी। बीते दिन जारी हुए बिहार पब्लिक सर्विस कमीशन (बीपीएससी) के नतीजों में उसे 147वां रैंक हासिल हुआ है।

Sponsored

जिसके हिसाब से उसे सर्किल ऑफिसर का पद मिलने की उम्मीद है। राजधानी के विद्यानगर इलाके में रहनेवाली खुश्बू दो भाइयों के बीच इकलौती बेटी है। पिता आचार्य रवि शास्त्री पूजा-पाठ कराते हैं, जबकि मां होममेकर हैं।

Sponsored
Khushboo living in Ranchi got 147th rank in BPSC
रांची में रहनेवाली खुशबू को BPSC में 147वां रैंक हुआ हासिल

दसवीं की परीक्षा में स्कूल की टॉपर

दसवीं की परीक्षा में 10 सीजीपीए लाकर खुश्बू अपने स्कूल की टॉपर रही थी। उसी तरह 12वीं की परीक्षा में भी उसने स्कूल में टॉप किया था। वहीं राजधानी के प्रतिष्ठित कॉलेज से बायो-टेक्नोलॉजी में ग्रेजुएशन में भी उसे गोल्ड मेडल हासिल हुआ है।

Sponsored
Khushboo got gold medal in graduation
खुशबू को ग्रेजुएशन में मिला था गोल्ड मेडल

मूलतः बिहार के औरंगाबाद जिले के रहनेवाले रवि शास्त्री 1984 में रांची शिफ्ट कर गये थे। उसके बाद सपरिवार वो यहीं रह रहे हैं।

Sponsored

बेटों और बेटियों में नहीं किया फर्क

उन्होंने बताया की कभी भी परिवार में बेटों और बेटियों में फर्क नहीं किया गया इसी का नतीजा है कि उनकी बेटी ने यह मुकाम हासिल किया है।

Sponsored
Khushboo with her family
खुशबू अपने परिवार के साथ

वहीं अपनी सफलता का श्रेय अपने पिता, परिवार के सदस्यों और गुरुओं को देते हुए खुशबू ने कहा कि इससे पहले उसने संघ लोक सेवा की परीक्षा भी डी थी लेकिन उसमें सफलता नहीं मिली।

Sponsored

बेटियां बोझ नहीं बल्कि असेट

उसने कहा कि उससे वो विचलित नहीं हुई और अपनी मेहनत जारी रखी उसका नतीजा है की बीपीएससी की परीक्षा क्लियर हुई। उसने कहा कि सकारात्मक सोच के साथ परीक्षा की तैयारी बहुत जरुरी होती है।

Sponsored
Khushboo living in Ranchi, the capital of Jharkhand
झारखण्ड की राजधानी रांची में रहनेवाली खुशबू

साथ ही उसने कहा कि उसकी सफलता से वैसे लोगों को समझना चाहिए की बेटियां बोझ नहीं होती बल्कि असेट होती हैं। उसके एक भाई आशुतोष सॉफ्टवेर इंजिनियर हैं और छोटा भाई अभिषेक एमबीए कर रहा है।

Sponsored
Sponsored
Share this Article !

Comment here