BIHARCRIMEPolicePolitics

औरंगाबाद में पुलिस ने जब्त किया पांच करोड़ का गांजा, सीमेंट ढ़ोने वाली टेलर के तहखाने में ले जाया जा रहा था खेप

बिहार में शराब तस्करी के नायाब तरीके सामने आने के बाद अब गांजा तस्करी के भी नए- नए मामले सामने आ रह हैं. यहां औरंगाबाद में पुलिस ने पांच करोड़ रुपए का गांजा बरामद किया है. गांजा को सीमेंट ढोने वाली टेंकर में एक तहखाने में छुपा कर रखा गया था. जिसके बाद पुलिस ने छापेमारी करके 111 बोरी गांजा बरामद किया है. गांजे उड़ीसा से मदनपुर होते हुए आरा ले जाया जा रहा था. जिसे औरगाबाद पुलिस ने छापेमारी करके जब्त कर लिया. मामले में औरंगाबाद एसपी ने बताया कि जिले के मदनपुर थाना को गुप्त सूचना मिली थी की सीमेंट ढोने वाली टैंकर के अंदर तहखाना बना कर उसमें गांजा छिपाकर ले जाया जा रहा है. गांजा को उड़ीसा से मदनपुर होते हुए आरा ले जाया जा रहा है. इसके बाद पलिस ने इसके लिए एक छापेमारी टीम का गठन किया और ट्रक को गिरफ्त में ले लिया.

Loading...
Sponsored

छापेमारी के दौरान पुलिस ने सीमेंट ढोने वाली टेंकर WB 73-D 3031 को रोकी. इसके बाद पुलिस को देखते ही टेंकर का ड्राइवर और खलासी मौके से फरार हो गया. पुलिस ने टेंकर की जबव तलाशी ली तो टैंकर में बने तहखाने से 111 पैकेट गांजा बरामद किया गया. पुलिस ने ट्रक से 5 क्विंटल 79 किलोग्राम गांजा बरपामद किया है. इसके साथ ही पुलिस ने दो मोबाइल भी बरामद किया है. गांजे की इतनी बड़ी खेप पकड़े जाने के बाद औरंगाबाद एसपी ने कहा है कि छापेमारी टीम में लगे सभी पुलिसकर्मियों को पुरस्कृत किया जाएगा.

Loading...
Sponsored

शराब के साथ दूसरे नशीली चीजों की हो रही तस्करी

बता दें कि बिहार में शराबबदी के बाद नशे के लिए प्रयोग किए जाने वाले दूसरे चीजों की तस्करी भी बढ़ गई है. एक ओर जहां शराबबंदी के बावजूद भी शराब तस्करी के मामले सामने आ रहे हैं. वही अब पुलिस ने भारी मात्रा में गांजा बरामद किया है.

Loading...
Sponsored

टमाटर के साथ लाया जा रहा था शराब

इससे पहले पुलिस ने पटना में झारखंड से टमाटर के नीचे छिपाकर लाए जा रहे शराब को बरामद किया था. तस्करों ने पिकअप वैन में टमाटर की कैरेट के अदंर शराब के कार्टून को छिपा कर रखा था. इस कार्रवाई में पुलिस ने 22 लाख रुपए की शराब. एक स्कॉर्पियो , एक कार और दो मोटरसाइकिल बरामद किया था. पुलिस.पुलिस ने इस कार्रवाई में सात शराब तस्करों को भी पकड़ने में कामयाबी पाई थी. ये सभी प्रखंड प्रमुख की नेम प्लेट वाली गाड़ी से शराब तस्करी को अंजाम दे रहे थे.

Loading...
Sponsored

Loading...
Sponsored
Share this Article !

Comment here